बिहार में बढ़ेगी हरियाली, नीतीश कुमार ने दिया सड़क किनारे पौधे लगाने का निर्देश

नीतीश ने कहा, 'हमलोगों का उद्देश्य है कि गांव और टोलों को सड़कों से जोड़कर संपर्क बहाल किया जाए. सड़कों की गुणवत्ता बनी रहे और उसकी सतत निगरानी हो. लोगों की आबादी बढ़ रही है, वाहनों की संख्या बढ़ रही है, अत: सड़कों के निर्माण के साथ-साथ उनका रख रखाव भी जरूरी है.'   

बिहार में बढ़ेगी हरियाली, नीतीश कुमार ने दिया सड़क किनारे पौधे लगाने का निर्देश
मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को सड़कों के किनारे पौधे लगाए जाने का निर्देश दिया

पटना: बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने यहां शुक्रवार को बिहार में हरित आवरण बढ़ाने के लिए सड़कों के किनारे पौधे लगाए जाने की जरूरत पर बल दिया. उन्होंने सड़कों की गुणवत्ता बनाए रखने के लिए सतत निगरानी करने की जरूरत बताई. मुख्यमंत्री यहां ग्रामीण कार्य विभाग की समीक्षा बैठक में कहा कि सड़कों के मेंटेनेंस के लिए नई नीति पर कार्य किया जा रहा है. सड़कों की जांच कराई जा रही है तथा इस कार्य में कोताही बरतने वालों पर कार्रवाई भी की जा रही है.

उन्होंने कहा, 'सड़कों की गुणवत्ता के लिए असंतुष्टि का राष्ट्रीय मानक पांच प्रतिशत है, जबकि हमलोग बिहार में इसे तीन प्रतिशत तक लाने के लिए काम कर रहे हैं.' बैठक के दौरान उन्होंने कहा कि गांवों में पक्की गलियों का निर्माण किया जा रहा है.' 

 

नीतीश ने कहा, 'हमलोगों का उद्देश्य है कि गांव और टोलों को सड़कों से जोड़कर संपर्क बहाल किया जाए. सड़कों की गुणवत्ता बनी रहे और उसकी सतत निगरानी हो. लोगों की आबादी बढ़ रही है, वाहनों की संख्या बढ़ रही है, अत: सड़कों के निर्माण के साथ-साथ उनका रख रखाव भी जरूरी है.' 

राज्य में हरित आवरण बढ़ाने पर जोर देते हुए मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को सड़कों के किनारे पौधे लगाएं जाने का निर्देश दिया. उन्होंने कहा कि जिन सड़कों के किनारे ज्यादा ऊंचाई है, वहां दो कतार में पौधे लगाए जाएं.

इस बैठक में ग्रामीण कार्य मंत्री शैलेश कुमार, मुख्य सचिव दीपक कुमार, विकास आयुक्त अरुण कुमार सिंह सहित ग्रामीण कार्य विभाग के अधिकारी एवं अभियंता उपस्थित थे. (इनपुट IANS से भी)