ट्विटर मोटिवेटर तेजस्वी यादव ने बदली मायावती की सोच...

तेजस्वी यादव ने मायावती को ट्विटर से जुड़ने के लिए मोटिवेट किया था.

ट्विटर मोटिवेटर तेजस्वी यादव ने बदली मायावती की सोच...
तेजस्वी यादव ने मायावती को ट्विटर आने के लिए धन्यवाद किया है. (फाइल फोटो)

पटनाः राजनीति की पढ़ाई पढ़ रहे तेजस्वी यादव अब मोटिवेटर भी बन चुके हैं. तेजस्वी यादव के मोटिवेशन का ही नतीजा है कि बहन मायावती भी ट्विटर प्लेटफॉर्म पर आ गई हैं. बीते दिनों तेजस्वी यादव यूपी पहुंचे थे जहां उन्होंने सोशल मीडिया पर आने के लिए मायावती को सलाह दी थी. उनके सलाह के बाद मायावती ने सोशल मीडिया में सक्रिय होने का फैसला लिया है. 

उत्तर प्रदेश की पूर्व सीएम बहन मायावती भी अब जमाने के साथ चलेंगी. बहुजन समाज की राजनीति करनेवाली मायावती को सोशल मीडिया पर कभी भरोसा नही था. लेकिन बिहार के एक युवा राजनेता तेजस्वी यादव ने उनकी सोच बदल दी. 

बीते दिनों तेजस्वी यादव यूपी में नए गठबंधन को लेकर बधाई देने लखनऊ गए थे. यूपी में उन्होंने अखिलेश यादव और मायावती को नए गठबंधन के लिए बधाई दी थी. संयोग से उस वक़्त बसपा सुप्रीमो मायावती का जन्मदिन भी था. बातचीत के क्रम में तेजस्वी ने मायावती को सोशल मीडिया पर सक्रीय होने की सलाह भी दी. क्योंकि वक़्त बदल रहा है और बदलते वक्त के साथ समाज के सभी वर्ग सोशल मीडिया पर ज्यादा सक्रिय हो चुका है. 

खासतौर पर युवा. अपनी बातों को समाज के लोगो तक पहुंचाने का सबसे बेहतर माध्यम बन चुका है सोशल मीडिया. मायावती को तेजस्वी यादव की सलाह पसंद आई और मायावती भी ट्विटर पर सक्रीय हो गईं. इस बात की जानकारी खुद तेजस्वी यादव ने दी है. शुरुआत के 19 दिनों में ही मायावती के 16.9 हजार फॉलोअर्स हो चुके हैं. 

तेजस्वी यादव भले ही मोटिवेटर या ट्विटर मास्टर बन गए हों. लेकिन बिहार पॉलिटिक्स के ट्विटर किंग तो नीतीश कुमार ही हैं. नीतीश कुमार को भी शुरुआती दौर में सोशल मीडिया पर भरोसा नही था. शुरुआती दौर में नीतीश कुमार ने ट्विटर का मजाक ये कहकर उड़ा दिया था कि  "आजकल लोग सुबह सुबह चीचीया देते हैं" मुझे इसपे भरोसा नही. 

आज की तारीख में बिहार में ट्विटर पर सबसे ज्यादा फॉलो किये जाने वाले नेता सीएम नीतीश कुमार ही हैं. नीतीश कुमार के फॉलोअर्स की संख्या 4.6 मिलियन है. जबकि दूसरे नंबर पर तेजस्वी यादव के पिता लालू प्रसाद 4.5 मिलियन फॉलोअर्स के साथ हैं. तीसरे नम्बर पर रविशंकर प्रसाद 2.9 मिलियन फॉलोअर्स के साथ हैं. सुशील मोदी के फॉलोवर की संख्या 1.7 मिलियन है. जबकि गिरिराज सिंह को 1 मिलियन लोग फॉलो करते हैं और तेजस्वी यादव को 1.4 मिलियन लोग फॉलो करते हैं.