close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

कश्मीर की लड़कियों से शादी करना बिहार के दो भाइयों को पड़ा महंगा, अपहरण का लगा आरोप

सुपौल जिले के राघोपुर थाना क्षेत्र के रहने वाले दो युवकों से जुड़ा है जिसपर आरोप है की उन्होंने कश्मीर से युवतियों को भगा कर लाया है.

कश्मीर की लड़कियों से शादी करना बिहार के दो भाइयों को पड़ा महंगा, अपहरण का लगा आरोप
दोनों ही युवतियों ने आरोप को खारिज करते हुए कहा कि वो लड़कों से प्यार करती है और शादी भी रचाई है.

सुपौल: जम्मू और कश्मीर से धारा 370 फिलहाल खत्म हुई है और इसका असर अब सामने आने लगा है. पहले जहां आम भारतीय अन्य राज्यों की तरह खुल कर रहने और सोचने की आजादी नहीं थी लेकिन अब कश्मीर में वो बातें नहीं रही है. लिहाजा वहां की युवक-युवतियां भी दूसरे राज्यों की तरह अपना जीवन साथी चुनने लगे हैं.

ताजा घटना बिहार के सुपौल जिले के राघोपुर थाना क्षेत्र के रहने वाले दो युवकों से जुड़ा है जिसपर आरोप है की उन्होंने कश्मीर से युवतियों को भगा कर लाया है. हालांकि मामले में दोनों ही युवतियों ने आरोप को खारिज करते हुए कहा कि वो लड़कों से प्यार करती है और शादी भी रचाई है. 

 

मिली जानकारी के अनुसार राघोपुर थाना क्षेत्र के रामबिशनपुर निवासी परवेज़ आलम और उसका भाई कश्मीर में राज्मीस्त्री का काम करता था. जहां कश्मीर की रहने वाली दो युवतियों को उससे प्यार कर बैठी और फिर उससे शादी भी कर ली. शादी के बाद दोनों नादिया और साइना के साथ सुपौल आया है. 

उधर कश्मीर की रहने वाले युवती के पिता यूसुफ ने कश्मीर में अपने नाबालिग लड़की के अपहरण का केस दर्ज करवाया है जिस मामले में केस की जांच को लेकर कश्मीर पुलिस सुपौल पहुंची और दोनो युवतियों को बरामद कर आगे की कार्रवाई में जुट गई है.

दोनों युवक मजदूरी करने कश्मीर गए थे जहां दोनों को कश्मीर की दोनों युवतियों से प्यार हो गया और बाद में दोनों ने शादी भी रचाई और युवतियों को लेकर वहां से अपने घर सुपौल आ गए. युवको का कहना है कि उन्होंने लड़कियों से कोर्ट में शादी की है जिसका सबूत भी उनके पास है. फिलहाल सुपौल पहुंचे कश्मीर पुलिस ने दोनों आरोपी भाई को भी हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है .