अंधविश्वासः डायन बिसाही के आरोप में दो लोगों की पीट-पीट कर हत्या, एक महिला घायल

सिमडेगा में डायन बिसाही के आरोप में एक ही परिवार के दो लोगों की निर्मम हत्या कर दी गई है. 

अंधविश्वासः डायन बिसाही के आरोप में दो लोगों की पीट-पीट कर हत्या, एक महिला घायल
सिमडेगा में डायन बता कर दो लोगों की हत्या कर दी गई.

सिमडेगाः झारखंड के सिमडेगा में डायन बिसाही के आरोप में एक ही परिवार के दो लोगों की निर्मम हत्या कर दी गई है. जबकि एक महिला को मारकर घायल कर दिया गया है. मृतकों में दो बुर्जुग शामिल हैं. घायल महिला के बाल काट दिए गए. अब इस मामले में पुलिस जांच कर रही है. पुलिस ने एक आरोपी को गिरफ्तार भी किया है.

घटना सिमडेगा थाना क्षेत्र के ग्राम पंचायत स्थित टुंबा टोली की है, जहां डायन बिसाही के आरोप में एक ही परिवार के 2 लोगों की निर्मम हत्या कर दी गई जबकि एक महिला को मार कर घायल कर दिया गया. मृतक में लगभग 60 वर्षीय पुरुष एवं उनकी 80 वर्षीय चाची शामिल है.

डायन बिसाही के मामले को लेकर कुछ दिन पहले कुदरूम पंचायत में छत्तीसगढ़ से ओझा गुणी को बुला कर गांव वालों ने एक बैठक की थी. बैठक में ओझा द्वारा मृतक को डायन के रूप में चिन्हित किया गया था. इसके बाद से गांव के लोगों ने उनको कुछ दिनों के लिए गांव से निकाल भी दिया था. बताया जाता है कि कुछ दिन पहले ही वह अपने घर कुदरूम लौटे थे.

कल देर शाम को डायन बिसाही के मामले में रमेश सिंह ने जलावन की लकड़ी से मार मार कर हत्या कर दी गई दोनों की हत्या कर दी. दोनों की मौत घटनास्थल पर ही हो गई, जबकि एक महिला पर भी जानलेवा हमला किया गया. महिला बेहोश होकर गिर पड़ी उसे अमृत समझ कर छोड़ दिया गया. उसने महिला के बाल भी काट दिए.

घटना को अंजाम देने के बाद आरोपी रमेश सिंह फरार हो गया. गांव वालों ने घटना को दबाने का प्रयास किया. लेकिन मुखिया अलेक्सियन बरला ने घटना की जानकारी पुलिस को दी. एसडीपीओ राजकिशोर एवं थाना प्रभारी रविंद्र कुमार सिंह आज सशस्त्र बलों के साथ घटनास्थल पर पहुंचकर शव को अपने कब्जे में किया एवं गांव के ही चौकीदार के घर से हत्या के आरोपी रमेश सिंह को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की.