close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

मेरा राजनीति में आने का मकसद पूरा हुआ, MLA-मंत्री पद के लिए नहीं आया था- गिरिराज सिंह

भाजपा के 'फायर ब्रांड' नेता माने जाने वाले सिंह ने आगे कहा, 'जम्मू एवं कश्मीर से अनुच्छेद 370 और 35ए हटाना मेरा मकसद था. नरेंद्र मोदी सरकार ने अपने दूसरे कार्यकाल के आरंभ में ही अनुच्छेद 370 और 35ए को हटाकर इस मकसद को पूरा कर दिया है.'

मेरा राजनीति में आने का मकसद पूरा हुआ, MLA-मंत्री पद के लिए नहीं आया था- गिरिराज सिंह
गिरिराज सिंह पिछले कुछ दिनों से अपने ससंदीय क्षेत्र बेगूसराय में थे.

मुजफ्फरपुर:  केंद्रीय मंत्री और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के फायरब्रांड नेता गिरिराज सिंह पिछले कुछ दिनों से अपने ससंदीय क्षेत्र बेगूसराय में थे. बेगूसराय में सुखाड़ और बाढ़ को लेकर उन्होंने सीधे सीएम नीतीश कुमार पर हमला बोला था. उन्होंने सरकार पर आरोप लगाए थे कि बिहार सरकार बेगूसराय के साथ अन्याय कर रही है. जिले में एक तरफ सुखाड़ है तो दूसरी तरफ बाढ़, लेकिन यहां केल लोगों को कोई मदद नहीं दी जा रही है.

वहीं, अब एक और बड़ा बयान देते हुए गिरिराज सिंह ने कहा है कि उनकी राजनीतिक पारी अब समाप्त होने वाली है. उन्होंने कहा कि वे राजनीति में जो करना चाहते थे, वह सब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पूरा कर दिया है. 

 

अपने बयानों के कारण चर्चा में रहने वाले सिंह ने मुजफ्फरपुर में पत्रकारों से चर्चा करते हुए कहा, 'प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की दूसरी पारी मेरे राजनीतिक जीवन की भी अंतिम पारी है. मैं राजनीति में मंत्री-विधायक बनने नहीं, कुछ मकसद व सपनों के साथ आया था. सपना था, 'जहां हुए बलिदान मुखर्जी, वह कश्मीर हमारा हो'.'

भाजपा के 'फायर ब्रांड' नेता माने जाने वाले सिंह ने आगे कहा, 'जम्मू एवं कश्मीर से अनुच्छेद 370 और 35ए हटाना मेरा मकसद था. नरेंद्र मोदी सरकार ने अपने दूसरे कार्यकाल के आरंभ में ही अनुच्छेद 370 और 35ए को हटाकर इस मकसद को पूरा कर दिया है.'

सिंह ने कहा, 'जनसंख्या नियंत्रण के लिए भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लाल किले की प्राचीर से घोषणा कर दी है.'उन्होंने कहा, 'नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में इन पांच वर्षों में हम सभी कार्यकर्ताओं की उम्मीदें पूरी हो जाएंगी. इसके बाद राजनीति करने का मेरा क्या उद्देश्य होगा?' उल्लेखनीय है कि सिंह की पहचान कट्टर हिंदू नेता के तौर पर होती है. सिंह बिहार में भी मंत्री का पद संभाल चुके हैं.