पटना: उपेंद्र कुशवाहा को मिला तेजस्वी-मांझी का समर्थन, 26 नवंबर से करेंगे आमरण अनशन

26 नवंबर से प्रस्तावित आमरण अनशन को लेकर उपेंद्र कुशवाहा ने तेजस्वी यादव से समर्थन मांगा. वहीं, तेजस्वी यादव ने उन्हें भरोसा दिलाया कि आरजेडी का पूरा समर्थन उन्हें प्राप्त है.

पटना: उपेंद्र कुशवाहा को मिला तेजस्वी-मांझी का समर्थन, 26 नवंबर से करेंगे आमरण अनशन
तेजस्वी यादव ने उन्हें भरोसा दिलाया कि आरजेडी का पूरा समर्थन उन्हें प्राप्त है.

पटना: आरएलएसपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा ने तेजस्वी यादव से मुलाकात की. 26 नवंबर से प्रस्तावित आमरण अनशन को लेकर उपेंद्र कुशवाहा ने तेजस्वी यादव से समर्थन मांगा. वहीं, तेजस्वी यादव ने उन्हें भरोसा दिलाया कि आरजेडी का पूरा समर्थन उन्हें प्राप्त है.
 
आरएलएसपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा केंद्रीय विद्यालय की जमीन को लेकर आमरण अनशन पर बैठेंगे. वो 26 नवंबर से अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल करेंगे और अपने आंदोलन को सफल बनाने को लेकर कुशवाहा ने सहयोगी दल के नेताओं से भी संपर्क साधना शुरू कर दिया है.

इसी क्रम में 10 सर्कुलर रोड, राबड़ी देवी के आवास पहुंच कर तेजस्वी यादव से मुलाकात कुशवाहा ने किया तेजस्वी से मुलाकात के दौरान विभिन्न राजनीतिक मुद्दों पर चर्चा की साथ हीं 26 नवंबर से प्रस्तावित आंदोलन को लेकर समर्थन मांगा. दरअसल उपेंद्र कुशवाहा 'शिक्षा सुधार वरना जीना बेकार' अभियान के तहत शिक्षा में सुधार को लेकर आंदोलन कर रहे हैं.

इस बार वे केंद्रीय विद्यालय के मुद्दे को लेकर अनशन करेंगे. अनशन पटना के मिलर हाई स्कुल के मैदान में 26 नवंबर से शुरू होगा. उपेंद्र कुशवाहा ने कहा है कि राज्य सरकार अपना रवैया बदले और केंद्र से स्वीकृत नवादा और औरंगाबाद के देव कुंड में केंद्रीय विद्यालय के लिए स्वकृति दे इसके साथ ही जिन जिलों में केंद्रीय विद्यालय नहीं है. वहां के लिए प्रस्ताव केंद्र सरकार को भेजें तेजस्वी यादव से मुलाकात सकरात्मक रहा अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल का आरजेडी  ने  समर्थन किया है.

वहीं, रविवार को उपेंद्र कुशवाहा ने पूर्व सीएम जीतन राम मांझी से भी मुलाकात की और आंदोलन में समर्थन मांगा. जीतन राम मांझी ने भी उपेंद्र कुशवाहा को समर्थन देने पर सहमति जताई है.