close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

उपेंद्र कुशवाहा ने की CM नीतीश से मांग- बिहार में ना मिले दूसरे राज्य के लोगों को नौकरी

उपेंद्र कुशवाहा ने बड़ा बयान देते हुए कहा है कि बाहरी छात्रों के लिए बिहार की नौकरियों में रोक मिलनी चाहिए. उन्होंने कहा है कि देश के कई राज्यों में अलग-अलग तरह से नियम लागू हैं.

उपेंद्र कुशवाहा ने की CM नीतीश से मांग- बिहार में ना मिले दूसरे राज्य के लोगों को नौकरी
देश के कई राज्यों में अलग-अलग तरह से नियम लागू हैं.

पटना: आरएलएसपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा ने बड़ा बयान देते हुए कहा है कि बाहरी छात्रों के लिए बिहार की नौकरियों में रोक मिलनी चाहिए. उन्होंने कहा है कि देश के कई राज्यों में अलग-अलग तरह से नियम लागू हैं.

उन्होंने साथ ही कहा है कि बिहारी छात्रों को दूसरे राज्यों में नौकरी लेने में परेशानी हो रही है. झारखंड में दूसरे राज्यों के लोगों का प्रवेश बंद कर दिया गया है. यूपी ने भी कह दिया है कि जो कम से कम पांच साल से यूपी में रह रहा है वही आवेदन कर सकता है. 

उपेंद्र कुशवाहा का कहना है कि इस तरह के नियम हर जगह हैं लेकिन बिहार में नहीं है. यहां दूसरे राज्य के लोगों को नौकरियां मिल रही है. बिहार में भी बाहर के लोगों के द्वारा हकमारी नहीं हो इस बात का ख्याल रखा जाना चाहिए.

आरएलएसपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा ने बिहार सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा है कि बिहार के छात्रों के साथ राज्य सरकार ज्यादती कर रही है. बिहार के पड़ोसी राज्य झारखंड, यूपी में के साथ कई ऐसे राज्य हैं जहां सिर्फ और सिर्फ वहीं के छात्रों को नौकरी दी जा रही है. जिससे बिहार युवा वंचित हो जा रहे हैं.

साथ ही कुशवाहा ने कहा है कि बिहार में शिक्षकों की काफी कमी है जिसका खामियाजा बिहार के छात्रों को भुगतना पड़ रहा है. बिहार सरकार एक तरफ कहती है कि बिहार के छात्रों के साथ खिलवाड़ नहीं किया जा सकता है और खिलवाड़ कर रही है.

उन्होंने कहा कि बिहार में नियोजन प्रक्रिया चल रही है जिसमें कई खामियां हैं, कई जिलों में रोस्टर भी जारी नहीं किया गया है. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार अब एक साल के मेहमान हैं. अब उनके जाने का समय आ गया है. बांका में लड़कियों ने विरोध किया है जनता में काफी आकोश है और यह आक्रोश बढ़ता जाएगा.