वशिष्ठ नारायण के भाई ने लगाया मदद न मिलने का आरोप, PMCH ने डेथ सर्टिफिकेट देकर झाड़ा पल्ला

महान गणितज्ञ वशिष्ठ नारायण सिंह की मृत्यु हो गई. वशिष्ट नारायण सिंह अपने परिवार के साथ पटना के कुल्हरिया कंपलेक्स में रहते थे. मिली जानकारी के अनुसार आज सुबह अचानक उनकी तबियत खराब हो गई. 

वशिष्ठ नारायण के भाई ने लगाया मदद न मिलने का आरोप, PMCH ने डेथ सर्टिफिकेट देकर झाड़ा पल्ला
वशिष्ठ नारायण सिंह का शव पीएमसीएच के बाहर इमरजेंसी में रखा रहा.

पटना: बिहार के विभूति और आइंस्टाइन के सिद्धांत को चुनौती देने वाले महान गणितज्ञ वशिष्ठ नारायण सिंह की मृत्यु हो गई. वशिष्ट नारायण सिंह अपने परिवार के साथ पटना के कुल्हरिया कंपलेक्स में रहते थे. मिली जानकारी के अनुसार आज सुबह अचानक उनकी तबियत खराब हो गई. जिसके बाद तत्काल परिजन पीएमसीएच लेकर गए जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया.

काफी देर तक वशिष्ठ नारायण सिंह का शव पीएमसीएच के बाहर इमरजेंसी में रखा रहा. एंबुलेंस के इंतजार में शव रखा हुआ था. बाद में पटना की एसडीओ एम्बुलेंस के साथ पीएमसीएच पहुंची. उन्होंने कहा कि हमें 10 मिनट पहले सूचना मिली तब हम आए हैं. हम अतिक्रमण हटाने गए थे, सीधे वहीं से आए हैं.

LIVE TV Code :

वहीं, वशिष्ठ नारायण सिंह के परिजनों ने आरोप लगाया है कि उन्हें किसी तरह की मदद नहीं दी गई. एंबुलेंस में ही वशिष्ठ नारायण सिंह का शव रखा हुआ है. कुछ देर में परिजन शव लेकर गांव के लिए रवाना होंगे. 

वशिष्ठ नारायण सिंह का राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया जाएगा. वहीं, वशिष्ठ नारायण सिंह के निधन पर सीएम नीतीश कुमार ने शोक व्यक्त किया है. गिरिराज सिंह ने वशिष्ठ नारायण के निधन पर शोक व्यक्त किया और ट्वीट करते हुए लिखा, 'हमने एक मणि खोया है ..प्रभु उनकी आत्मा को शांति दे.'