रांची: CAA-NRC का ग्रमीणों ने किया कुछ इस तरह किया विरोध..

गांव के लोगों ने एनआरसी और सीएए कानून का विरोध रोजा रखकर किया. साथ ही इफ्तार के दौरान इस कानून से देश का माहौल ना बिगड़े और अमन भाईचार बना रहे, इसके लिए भी विशेष दुआ की गई

रांची: CAA-NRC का ग्रमीणों ने किया कुछ इस तरह किया विरोध..
ग्रामीणों ने सीएए-एनआरसी का विरोध किया. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

रांची: एनआरसी (NRC) और नागरिकता संशोधन एक्ट (CAA) लोकसभा और राज्यसभा से पारित होने के बाद इस कानून को लेकर देश के कई हिस्सों में लगातार विरोध प्रदर्शन किया जा रहा है. इसी कड़ी में झारखंड की राजधानी रांची के कांके क्षेत्र के 3 गांव सतकनन्दू, बत्ताकानन्दू और कोल्या कानन्दू के सैकड़ों लोगों ने एक अनूठे अंदाज में इस कानून का विरोध प्रदर्शन करते नजर आए.

इन तीनों गांव के लोगों ने एनआरसी और सीएए कानून का विरोध रोजा रखकर किया. साथ ही इफ्तार के दौरान इस कानून से देश का माहौल ना बिगड़े और अमन भाईचार बना रहे, इसके लिए भी विशेष दुआ की गई. इस मौके पर वहां मौजूद लोगों ने कहा कि एनआरसी और सीएए कानून संविधान के खिलाफ है.

इसके साथ ही इस कानून के आने से देश में भेदभाव होगा, इसलिए हम सभी इस कानून का शांतिपूर्ण तरीके से विरोध करते हैं.उन्होंने मांग किया कि केंद्र सरकार इस कानून को जल्द से जल्द वापस ले.

बता दें कि सीएए को लेकर लगातार देश के अलग-अलग हिस्सों में विरोध प्रदर्शन हो रहा है. बीते दिनों कई राजनीतिक पार्टियों ने इसको लेकर प्रदर्शन भी किया था. जबकि कही जगह इस कानून के विरोध में कुछ हिंसात्मक घटना भी हुई थी