समस्तीपुर: प्रशासन ने रोका अश्लील डांस, भोजपुरी गायिका ने लगाया ये बड़ा आरोप

 गायिका देवी के गानों पर झूम रहे दर्शक भी प्रशासन के इस रवैया से खफा हो गए और जमकर बवाल काटा. इसके बाद प्रशासन और विद्यापति परिषद से जुड़े लोगों के काफी समझाने के बाद मामले को शांत कराया गया.

समस्तीपुर: प्रशासन ने रोका अश्लील डांस, भोजपुरी गायिका ने लगाया ये बड़ा आरोप
सांस्कृतिक कार्यक्रम में चल रहा था अश्लील डांस.

समस्तीपुर: बिहार के समस्तीपुर में देवी के कार्यक्रम के दौरान दर्शकों ने जमकर बवाल काटा. जानकारी के मुताबिक, विद्यापति धाम में 10 नवंबर से 12 तक सातवें विद्यापति राजकीय महोत्सव का आयोजन किया जा रहा है. इस दौरान सोमवार को कार्यक्रम में अश्लील डांस प्रस्तुत किया गया. पहले तो प्रशासन के द्वारा कलाकारों को इस तरह के कार्यक्रम नहीं करने को कहा गया, लेकिन इसके बाद भी अश्लील डांस चलता रहा है. जिसके बाद प्रशासन द्वारा कार्यक्रम को रोक दिया गया.

हालांकि, प्रशासन द्वारा अश्लील डांस रोके जाने के बाद भी कलाकार माने नहीं और उन्होंने इसको दोबारा शुरू कर दिया. इसके बाद प्रशासन ने साउंड को बंद करा दिया. साउंड बंद कराए जाने से गायिक देवी मंच से ही प्रशासन पर बिफर पड़ी. उन्होंने प्रशासन पर कलाकारों को अपमानित करने का आरोप लगाया.

वहीं, देवी के गानों पर झूम रहे दर्शक भी प्रशासन के इस रवैया से खफा हो गए और जमकर बवाल काटा. इसके बाद प्रशासन और विद्यापति परिषद से जुड़े लोगों के काफी समझाने के बाद मामले को शांत कराया गया.

आपको बता दें कि 10 नवंबर को बिहार विधानसभा के अध्यक्ष विजय कुमार चौधरी और बिहार सरकार के कला संस्कृति एवं युवा विभाग के मंत्री प्रमोद कुमार ने इस तीन दिवसीय राजकीय समारोह का उद्घाटन किया था. इस राजकीय समारोह में सांस्कृतिक कार्यक्रम के लिए कई कलाकारों को आमंत्रित किया गया था. 

धार्मिक स्थल पर सरकारी स्तर से आयोजित इस कार्यक्रम में अश्लील डांस की प्रस्तुति को भोजपुरी गायिका देवी गलत नहीं मान रही थी. उनका कहना है कि वह आधुनिक हैं और परंपरा से भी जुड़ी हैं. देवी ने कहा कि आज जमाना बदल गया है और हमें जमाने के साथ चलना होगा. कलाकार अपने हिसाब से जीता है और इसमें किसी की दखलअंदाजी उन्हें कतई बर्दाश्त नहीं है.