close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

VIDEO : संजया झा बोले- 'कोसी-कमला नदी पर हाई डैम बनाने के बाद ही मिलेगी बाढ़ से निजात'

नेपाल से आने वाली नदियां बुधवार को भी उफान पर हैं, जिससे अब अन्य क्षेत्रों में भी बाढ़ का पानी चढ़ने लगा है. लोग अपने घर छोड़कर सुरक्षित स्थानों पर शरण लिए हुए हैं. 

VIDEO : संजया झा बोले- 'कोसी-कमला नदी पर हाई डैम बनाने के बाद ही मिलेगी बाढ़ से निजात'
संजय झा हाल ही में बिहार सरकार में जल संसाधन मंत्री बने हैं. (फाइल फोटो)

पटना: बिहार के उत्तरी हिस्सों के करीब सभी जिलों में बाढ़ का कहर जारी है. वहीं, नेपाल से आने वाली नदियां बुधवार को भी उफान पर हैं, जिससे अब अन्य क्षेत्रों में भी बाढ़ का पानी चढ़ने लगा है. लोग अपने घर छोड़कर सुरक्षित स्थानों पर शरण लिए हुए हैं. बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और जल संसाधन मंत्री संजय झा लगातार हवाई सर्वेक्षण किए हैं. इसके साथ ही मंत्री ने बाढ़ के स्थायी निदान के लिए गेंद केंद्र सरकार के पाले में डाल दी है. उनका कहना है कि नेपाल में हाई डैम बनाए बिना बाढ़ और उसकी विभीषिका को रोकना संभव नहीं है. 

जी मीडिया से खास बातचीत में बिहार के जल संसाधन मंत्री संजय झा ने कहा कि उत्तर भारत में नेपाल की वजह से बाढ़ आती है. सरकार बाढ़ से निपटने के लिए पहले से तैयार थी, बावजूद काफी नुकसान हुआ है. 

उन्होंने कहा कि सीएम नीतीश कुमार ने 24 घंटे के भीतर बाढ़ग्रस्त इलाकों का जायजा लिया. इस बार 1987 से भी अधिक भीषण बाढ़ आई हुई है. पानी कम होते ही बांध पर काम शुरू किया जाएगा. 

विपक्ष पर निशाना साधते हुए संजय झा ने कहा कि विपक्ष के पास बोलने के लिए कुछ भी नहीं है. आपदा मैनेजमेंट में बिहार सरकार देश में नंबर वन है. सीएम खुद नजर रखे हुए हैं. हेलीकॉप्टर से 6 घंटे का सफर लग्जरी नहीं है.

बांध के बारे में बात करते हुए संजय झा ने कहा है कि बांध मिट्टी का बना हुआ होता है इसलिए चूहा भी आ सकता है. नेपाल में कोसी और कमला पर हाई डैम बनने के बाद ही बाढ़ से निजात मिल सकती है.