झारखंड की इस महिला हॉकी खिलाड़ी ने कहा- टोक्यो में पदक के लिए हम सबकुछ करेंगे

टोक्यो ओलंपिक का आयोजन, इस साल जुलाई-अगस्त में होना था. लेकिन कोरोना वायरस  महामारी के कारण इसे अगले साल तक के लिए स्थगित कर दिया गया है.  

झारखंड की इस महिला हॉकी खिलाड़ी ने कहा- टोक्यो में पदक के लिए हम सबकुछ करेंगे
झारखंड की इस महिला हॉकी खिलाड़ी ने कहा- टोक्यो में पदक के लिए हम सबकुछ करेंगे.

बेंगलुरु/रांची: भारतीय महिला हॉकी टीम की मिडफील्डर निक्की प्रधान ने कहा है कि, टोक्यो ओलंपिक में पदक हासिल करने के लिए टीम सब कुछ करेगी. 26 वर्षीय निक्की 2016 रियो ओलंपिक (Rio Olympic) में भारतीय महिला हॉकी टीम का हिस्सा थीं.

उन्होंने कहा, '2016 में हम सबके लिए एक बहुत बड़ा पल था. मुझे लगता है कि, हम इसी चीज से अभिभूत थे कि, हमने 36 साल बाद ओलंपिक के लिए क्वालीफाई किया था. लेकिन, मेरा मानना है कि वह महज शुरुआत थी.'

टोक्यो ओलंपिक (Tokyo Olympics) का आयोजन, इस साल जुलाई-अगस्त में होना था. लेकिन कोरोना वायरस (Coronavirus) महामारी के कारण इसे अगले साल तक के लिए स्थगित कर दिया गया है.

निक्की ने कहा, 'मैंने हमेशा ओलंपिक पदक का सपना देखा है. मुझे पता है कि बाकी लड़कियां भी केवल ओलंपियन नहीं, बल्कि ओलंपिक पदक विजेता के रूप में अपनी पहचान बनाना चाहती हैं. इसलिए जब भी हम टोक्यो में कदम रखेंगे तो हम, इसमें पोडियम हासिल करने के लिए सबकुछ करेंगे.'

झारखंड की रहने वाली निक्की ने साथ ही कहा, 'एक समय था जब मेरे लिए एक पेशेवर हॉकी खिलाड़ी होने की कल्पना करना मुश्किल था. लेकिन, मुझे लगता है कि मैंने जो मेहनत की है और आसपास के लोगों से जो मुझे समर्थन मिला है, इससे मुझे बहुत फायदा हुआ है. मैंने राज्य का प्रतिनिधित्व करना शुरू कर दिया और इसने मुझे राष्ट्रीय टीम में खेलने के लिए प्रेरित किया.'
(इनपुट-आईएएनएस)