बिहार विधानमंडल का शीतकालीन सत्र आज से शुरू, तेजस्वी के आने पर सस्पेंस बरकार

बिहार विधानमंडल का शीतकालीन सत्र आज से शुरू, तेजस्वी के आने पर सस्पेंस बरकार

शीतकालीन सत्र के दौरान 5 बैठकें निर्धारित हैं. पटना में भयानक जलजमाव के बाद विधानसभा का पहला सत्र है. ऐसे में विपक्ष इसे मुद्दे को उठाने की तैयारी में है. इसके साथ ही बिहार में कानून-व्यवस्था का मुद्दा भी उठाया जा सकता है. 

 

बिहार विधानमंडल का शीतकालीन सत्र आज से शुरू, तेजस्वी के आने पर सस्पेंस बरकार

पटना: बिहार विधानमंडल का शीतकालीन सत्र आज से शुरू हो रहा है. हमेशा की तरह इस बार भी शीतकालीन सत्र के हंगामेदार होने के आसार हैं. शीतकालीन सत्र 28 नवंबर तक चलेगा. 

शीतकालीन सत्र के दौरान 5 बैठकें निर्धारित हैं. पटना में भयानक जलजमाव के बाद विधानसभा का पहला सत्र है. ऐसे में विपक्ष इसे मुद्दे को उठाने की तैयारी में है. इसके साथ ही बिहार में कानून-व्यवस्था का मुद्दा भी उठाया जा सकता है. 

विपक्ष इस बार शीतकालीन सत्र में पटना में हुए जलजमाव के मुद्दे को मुख्य रूप से उठाने की तैयारी में है. इसके अलावा डेंगू का कहर जिसे लोगों ने झेला, उसे भी मुद्दा बनाया जाएगा. इसके अलावा विपक्ष लगातार बढ़ रहे अपराधों पर भी हंगामा कर सकती है.

विपक्ष की तैयारियों को देखकर ये भी कयास लगाए जा रहे हैं कि इस बार सदन के अंदर मुद्दों के सहारे सरकार को घेरा जाएगा. लेकिन सत्ता धारियों के सामने एक ही मुद्दा है कि तेजस्वी यादव सदन की कार्यवाही में मौजूद रहेंगे या नहीं. 

यानी विपक्ष के पास मुद्दों की कमी नहीं है. लेकिन सरकार के पास एक मुद्दा है जो विपक्ष के दुखती रग को दबाने जैसा है. तेजस्वी इस बार सत्र में आएंगे या नहीं सरकार के लिए ये बड़ा सवाल है.

हालांकि आरजेडी ने सरकार को पहले ही बता दिया है कि इस बार नेता प्रतिपक्ष सदन में मौजूद रहेंगे और सरकार को उन्हीं की अगुवाई में घेरा जाएगा. जिसके लिए रणनीति तैयार है. 

Trending news