close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

रांची: महिला थाने में महिला ने की खुदकुशी, उठ रहे कई सवाल

रातू थाना के बाद रांची के महिला थाने में एक महिला साड़ी का फंदा बनाकर झूल गई. भटकती अर्ध्दविक्षिप्त महिला को सुरक्षित रखने के लिए महिला थाना पहुंचाया, लेकिन उसने फंदे से झूलकर दी जान दे दी जिसके बाद कई सवाल खड़े कर रहे हैं.  

रांची: महिला थाने में महिला ने की खुदकुशी, उठ रहे कई सवाल
पुलिस के दुवारा दी गई जानकारी के अनुसार महिला अर्धविक्षिप्त बताई जा रही है. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

रांची: झारखंड की राजधानी रांची में फिर एक कस्टोडियन डेथ का मामला सामने आया है. रातू थाना के बाद रांची के महिला थाने में एक महिला ने खुदकुशी कर ली. भटकती अर्ध्दविक्षिप्त महिला को सुरक्षित रखने के लिए महिला थाना पहुंचाया, लेकिन उसने फंदे से झूलकर दी जान दे दी जिसके बाद कई सवाल खड़े कर रहे हैं.

सोमवार की सुबह करीब 4:00 बजे महिला थाने में उस वक्त अफरा-तफरी मच गई जब थाने में मौजूद महिला ने आत्महत्या कर ली. पुलिस के द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार महिला अर्धविक्षिप्त बताई जा रही है. महिला का नाम श्री बाई और पति का नाम सुकना राम बताया जा रहा है. वह डुमरी चैनपुर गुमला की रहने वाली थी. उसे रविवार की रात पीसीआर-21 वैन की पुलिस ने महिला थाने पहुंचाया था. 

 

महिला रांची रेलवे स्टेशन के आसपास भटकती हुई मिली थी. इसलिए उसे महिला थाने में शेल्टर के लिए भेजा गया था. आश्रय हॉल में जब महिला ने आत्महत्या की थी तो ठीक उसी समय अन्य दो महिलाओं ने यह देख पुलिसकर्मियों को जानकारी दी. इसके बाद पूरे थाने में हड़कंप मच गया. 

घटना के तुरंत बाद महिला थाना प्रभारी विंध्यवासिनी सिन्हा सहित अन्य अधिकारी थाना पहुंचे और जिसके बाद एनएचआरसी की गाइड लाइन पर मजिस्ट्रेट के सामने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है. हालांकि इस घटना के बाद महिला थाने की पुलिस पूरी तरह से छुपाने में जुटी है.

कोतवाली बीएसपी ने मीडिया से बातचीत में कहा कि कल देर रात पुलिस के पास एक अन्य महिला का फोन आया था जिसमें उन्होंने जानकारी दी कि कोई महिला उनके दरवाजे को देर रात खटखटा रही जो कि डरी सहमी सी है. जिसके बाद तुरंत पीसीआर वहां पर पहुंची और उस महिला को पीसीआर में बैठाकर थाने ले जाया गया. जहां अन्य दो महिलाओं के साथ उन्हें बाल आश्रम में रखा गया लेकिन जब सवेरे महिला पुलिसकर्मी बाल आश्रम गई तो उन्होंने देखा कि वह महिला फंदे से झूल रही.

 मामले पर पुलिस का कहना है कि तमाम चीजें जांचका विषय हैं और जांच के बाद ही यह स्पष्ट होगा कि आखिर महिला क्यों डरी हुई थी और उसने सुसाइड क्यों कर लिया.