close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

पटना जंक्शन पर बनेगा विश्व का सबसे बड़ा वेटिंग हॉल, करोड़ों रुपए किए जाएंगे खर्च

पटना जंक्शनऔर फूड कोर्ट समेत 15 यात्री सुविधाओं का शुभारम्भ किया. इस मौके पर रविशंकर प्रसाद ने कहा कि केंद्र सरकार आमलोगों की सुविधा और बेहतरी के लिए कृतसंकल्पित है.

पटना जंक्शन पर बनेगा विश्व का सबसे बड़ा वेटिंग हॉल, करोड़ों रुपए किए जाएंगे खर्च
आने वाले दिनों में पचास लाख करोड़ रुपये खर्च किये जाने की योजना है.(फाइल फोटो)

पटना: पटनावासियों के लिए बड़ी खुशखबरी है. दरअसल शनिवार को केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने पटना जंक्शन पर विश्व का सबसे बड़ा प्रतीक्षालय, स्वचालित सीढ़ी/ एस्केलेटर, पटना जंक्शनऔर फूड कोर्ट समेत 15 यात्री सुविधाओं का शुभारम्भ किया. इस मौके पर रविशंकर प्रसाद ने कहा कि केंद्र सरकार आमलोगों की सुविधा और बेहतरी के लिए कृतसंकल्पित है.

इतना ही नहीं सरकार की रेलवे के जरिये विकास के लिए आने वाले दिनों में पचास लाख करोड़ रुपये खर्च किये जाने की योजना है. आपको बता दें कि जिन 15 योजनाओं की शुरुआत हुई है उनमें सबसे महत्वपूर्ण विश्व का सबसे बड़ा प्रतीक्षालय है. इस वेटिंग हॉल में पांच सौ लोग एक साथ बैठ सकते है और इसमें फ्री वाई-फाई सुविधा समेत कई खासियत है, जिससे की यहां इंतजार करने वाले यात्री अपना बेहतर समय बिता पाएंगे यानि अब रेलयात्रियों का पटना जंक्शन पर अपनी ट्रेन का इंतज़ार करना बोरिंग नहीं होगा.

 

इसके साथ ही स्वचालित सीढ़ी यानि एस्केलेटर और फ़ूड कोर्ट के अलावा यात्रियों की सहूलियत के लिए हमसफ़र ऐप की भी शुरुआत की गयी.केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा कि आमलोगों को जो बेहतर सेवा उपलब्ध कराई जा रही है, ये सिर्फ सरकार की सोच का फर्क है और सरकार की आगे भी रेलवे के विकास के लिए बड़े पैमाने पर पूंजी निवेश की कार्ययोजना है. 

वहीं इस मौके पर पटना जंक्शन पर साफ सफाई के लिए आमलोगों को भी जागरूक होने का आग्रह किया गया और आनेवाले दिनों में और बेहतर सेवा के लिए काम करने का भरोसा भी दिलाया गया.आपको बता दें कि कार्यक्रम के दौरान पाटलिपुत्र के सांसद रामकृपाल यादव और बिहार सरकार के मंत्री नाद्किशोर यादव भी मौजूद रहे, जिन्होंने अपनी बात रखते हुए रेल यात्रियों के हित में काम करने और उनकी सहूलियत का पूरा ख़्याल रखने प्रतिबद्धता दिखाई. (Edited by: Rashmi)