close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

आराः सड़क दुर्घटना में घायल युवक को सदर अस्पताल में नहीं मिला इलाज

सड़क दुर्घटना में घायल युवक आरा सदर में इलाज कराने के लिए आया मगर उसे बेरंग वापस लौटना पड़ा. 

आराः सड़क दुर्घटना में घायल युवक को सदर अस्पताल में नहीं मिला इलाज
युवक को सदर अस्पताल में इलाज नहीं दिया गया.

आराः बिहार में स्वास्थ्य व्यवस्था की हालत ख़राब है और सूबे की स्वास्थ्य व्यवस्था बीमार है. अपनी कारगुजारियों को लेकर हमेशा से सुर्खियों में रहने वाला आरा का सदर अस्पताल एक बार फिर से सवालों के घेरे में हैं. एक सड़क दुर्घटना में घायल युवक आरा सदर में इलाज कराने के लिए आया मगर उसे बेरंग वापस लौटना पड़ा. 

दरअसल जख्मी युवक बहुत देर तक एम्बुलेंस में तड़पता रहा लेकिन किसी को उसकी जान की फिक्र नहीं हुई. सरकारी अस्पताल की लापरवाही को देखते हुए परिजन उसे निजी अस्पताल लेकर गए. 

सरकारी हॉस्पिटल की इतनी बड़ी लापरवाही सामने आने के बाद अस्पताल प्रशासन के ऊपर सवालिया निशान खड़ा हो रहे हैं. मिली जानकारी के मुताबिक भोजपुर जिले के आयर थाना इलाके के अशुधन गांव के रहने वाले अशोक यादव के 19 साल का बेटा निर्मल सिंह सड़क दुर्घटना में गंभीर रूप से घायल हो गया था. 

बताया जा रहा है कि निर्मल अपने गांव से इसाढ़ी जा रहा था तभी दुल्हिन गंज बाजार के पास वह सड़क हादसे का शिकार हो गया. आनन फानन में उसके परिजन इलाज के लिए आरा सदर अस्पताल लेकर आये मगर वहां हॉस्पिटल बड़ी लापरवाही के कारण उसका इलाज नहीं हो पाया. कोई भी व्यक्ति उसे एम्बुलेंस से उतारने वाला भी नहीं था. 

अस्पताल की बेरुखी के कारण परिजनों को निजी हॉस्पिटल की ओर रुख करना पड़ा. जख्मी युवक के परिजन चंदेश्वर सिंह ने बताया कि अस्पताल में व्यवस्था नहीं है. इसलिए वो प्राइवेट हॉस्पिटल में जा रहे हैं. अस्पताल के कर्मी ने कहा कि कोई नहीं है. खुद ही मरीज को स्ट्रेचर पर लाद कर लाइए तो इससे नाराज परिजन घायल को  प्राइवेट अस्पताल लेकर गए.वही इस  पूरी घटना पर अस्पताल प्रबंधक द्वारा कुछ भी बोलने से मन कर दिए.