close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

सुभाषचंद्र बोस के प्रपौत्र चंद्रकुमार बोस को BJP ने दिया टिकट, कोलकाता दक्षिण से ठोकेंगे ताल

लोकसभा चुनाव के लिए बीजेपी द्वारा जारी पहली सूची में पश्चिम बंगाल के 27 उम्मीदवारों के नाम घोषित किए गए.   

सुभाषचंद्र बोस के प्रपौत्र चंद्रकुमार बोस को BJP ने दिया टिकट, कोलकाता दक्षिण से ठोकेंगे ताल
बीजेपी ने पश्चिम बंगाल में सुभाषचंद्र बोस के प्रपौत्र चंद्र कुमार बोस पर दांव लगाया है..(फाइल फोटो)

नई दिल्ली: लोकसभा चुनाव के लिए बीजेपी द्वारा जारी पहली सूची में पश्चिम बंगाल के 27 उम्मीदवारों के नाम घोषित किए गए. बीजेपी ने पश्चिम बंगाल में सुभाषचंद्र बोस के प्रपौत्र चंद्र कुमार बोस पर दांव लगाया है. चंद्र कुमार बोस को कोलकाता दक्षिण से टिकट दिया गया है. चंद्र कुमार बोस पिछले विधानसभा चुनावों में बीजेपी की तरफ से सीएम ममता बनर्जी के खिलाफ चुनाव मैदान में उतरे थे. चंद्र कुमार बोस नेताजी सुभाष चंद्र बोस के परिवार से आते है. वह नेताजी के पड़पोते हैं. बीजेपी ने जादवपुर से अनुपम हाजरा, मेदिनीपुर से दिलीप घोष, आरामबाग से तपन रॉय, बशीरहाट से सायंतन बसु, कूचबिहार से निशीथ प्रमाणिक.

आसनसोल से बाबुल सुप्रियो समेत कई लोगों के टिकट को फाइनल कर दिया है. बीजेपी के वरिष्ठ नेता जे पी नड्डा ने संवाददाता सम्मेलन में लोकसभा चुनाव के लिये उम्मीदवारों की पहली सूची जारी की. उन्होंने बताया कि 16 मार्च, 19 मार्च और 20 मार्च को बीजेपी की केंद्रीय चुनाव समिति की बैठक हुई. इसमें एक-एक करके राज्यों पर चर्चा हुई जिसमें बीजेपी अध्यक्ष शाह, प्रधानमंत्री मोदी ने हिस्सा लिया.

आपको बता दें कि पश्चिम बंगाल में बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने 23 सीटें जीतने का लक्ष्य तय किया है. बीजेपी की राज्य इकाई के एक नेता ने कहा था कि, ‘‘यह अभूतपूर्व है कि हमें कुछ सीटों पर बड़ी संख्या में आवेदन मिल रहे हैं. 10 साल पहले हमें लोगों को हमारे टिकट पर चुनाव लड़ने के लिए मनाने में मशक्कत करनी पड़ती थी.’’

 

भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने कहा था, ‘‘हमने उम्मीदवारों की जीत की संभावना का आकलन करने के लिए बाहरी और आंतरिक सर्वेक्षण शुरू किया है. सर्वेक्षण में सीट जीतने की उम्मीदवार की क्षमता और उसकी लोकप्रियता जैसे पहलुओं को शामिल किया जाएगा. आंतरिक सर्वेक्षण और बाहरी एजेंसियों के नतीजों के आधार पर, हम अपनी सूची तैयार करेंगे.’’

गौरतलब है कि 2014 लोकसभा चुनाव में भाजपा यहां केवल दो सीटों पर ही जीत दर्ज कर पाई थी. सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस ने 34, कांग्रेस ने चार और माकपा ने दो सीटें अपने नाम की थी.