close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

मिशन 2019 के लिए BJP ने कसी कमर, राजनाथ सिंह और अरुण जेटली को मिली बड़ी जिम्मेदारी

सामाजिक एवं स्वयंसेवी संगठनों से संपर्क साधने वाली कमेटी के प्रमुख केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी होंगे.

मिशन 2019 के लिए BJP ने कसी कमर, राजनाथ सिंह और अरुण जेटली को मिली बड़ी जिम्मेदारी
फाइल फोटो

नई दिल्ली: बीजेपी ने लोकसभा चुनावों के लिए अपने वरिष्ठ नेता राजनाथ सिंह और अरूण जेटली को क्रमश: संकल्प पत्र (घोषणापत्र) कमेटी और प्रचार शाखा का रविवार को प्रमुख नियुक्त किया. दरअसल, पार्टी अध्यक्ष अमित शाह ने आमचुनाव की तैयारियों के लिए 17 समूहों का गठन किया है. एक बयान के मुताबिक 20 सदस्यीय संकल्प पत्र कमेटी के सदस्यों में केंद्रीय मंत्री निर्मला सीतारमण, रवि शंकर प्रसाद, पीयूष गोयल और मुख्तार अब्बास नकवी तथा मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान शामिल हैं. कमेटी को पार्टी का घोषणापत्र तैयार करने का कार्य सौंपा गया है. जेटली भी इस कमेटी के सदस्य होंगे.

बयान में कहा गया है कि सामाजिक एवं स्वयंसेवी संगठनों से संपर्क साधने वाली कमेटी के प्रमुख केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी होंगे, जबकि उनकी कैबिनेट सहकर्मी सुषमा स्वराज चुनाव के लिए साहित्य तैयार करने वाले समूह की प्रमुख होंगी. प्रसाद मीडिया समूह का नेतृत्व करेंगे, जबकि केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर बुद्धिजीवियों के साथ बैठकों का आयोजन कराने वाली शाखा के प्रमुख होंगे. लोकसभा चुनाव अप्रैल-मई में होने की उम्मीद है. 

बता दें कि हाल ही में बीजेपी अध्यक्ष ने लोकसभा चुनाव 2019 की तैयारियों को देखते हुए 9 राज्यों के चुनाव प्रभारी और सह-प्रभारी नियुक्त कर दिए हैं. इनमें निर्मला सीतारमण को दिल्ली और जेपी नड्डा को उत्तर प्रदेश की कमान सौंपी गई है. पार्टी ने पीयूष गोयल को तमिलनाडु, पुडुचेरी और अंडमान-निकोबार में लोकसभा चुनाव प्रभारी नियुक्त किया है. वहीं, इन राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में सी टी रवि सह-प्रभारी होंगे. गौरतलब है कि इससे पहले बीजेपी ने 26 दिसंबर 2018 को 17 राज्यों के लिए पार्टी प्रभारियों की नियुक्ति की थी.

इसमें बताया गया कि केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर राजस्थान में चुनाव अभियान संभालेंगे. वहीं, उनके कैबिनेट सहयोगी थावरचंद गहलोत को उत्तराखंड की जिम्मेदारी दी गई. पार्टी द्वारा जारी एक बयान के अनुसार कई राज्यों के लिए सह-प्रभारियों की भी नियुक्ति की गई है. राजनीतिक रूप से महत्वपूर्ण प्रांत उत्तर प्रदेश में गोवर्धन झड़ापिया, दुष्यंत गौतम और नरोत्तम मिश्रा को जिम्मेदारी सौंपी गयी है. झडापिया गुजरात के नेता हैं वहीं, गौतम पार्टी उपाध्यक्ष हैं. नरोत्तम मिश्रा मध्य प्रदेश से हैं. उत्तर प्रदेश में बीजेपी को सपा तथा बसपा के संभावित गठबंधन से कठिन चुनौती मिलने की संभावना है. बयान के अनुसार, बीजेपी महासचिवों भूपेंद्र यादव और अनिल जैन को क्रमश: बिहार और छत्तीसगढ़ का जिम्मा सौंपा गया.

राज्यसभा सदस्य वी मुरलीधरन और पार्टी सचिव देवधर राव को आंध्र प्रदेश का प्रभारी नियुक्त किया गया. बयान के अनुसार महेंद्र सिंह को असम तथा ओपी माथुर को गुजरात का प्रभारी बनाया गया. भाजपा ने कई अन्य राज्यों के लिए भी प्रभारियों एवं सह-प्रभारियों की नियुक्ति की. इन राज्यों में हिमाचल प्रदेश, झारखंड, मध्य प्रदेश, मणिपुर, नगालैंड, पंजाब, तेलंगाना और सिक्किम के साथ ही केंद्रशासित प्रदेश चंडीगढ़ भी शामिल है. पार्टी प्रवक्ता सुधांशु त्रिवेदी को राजस्थान का सह-प्रभारी बनाया गया है वहीं उत्तर प्रदेश के मंत्री स्वतंत्र देव सिंह तथा दिल्ली भाजपा के पूर्व अध्यक्ष सतीश उपाध्याय मध्य प्रदेश के क्रमशः प्रभारी और सह-प्रभारी होंगे.

भाजपा महासचिव अरूण सिंह, हरियाण के मंत्री अभिमन्यु, कर्नाटक के पूर्व मंत्री अरविंद लिंबावली और उत्तराखंड के पूर्व पार्टी अध्यक्ष तीरथ सिंह रावत को क्रमश: ओडिशा, पंजाब, तेलंगाना और हिमाचल प्रदेश की जिम्मेदारी सौंपी गयी है. अभिमन्यु को चंडीगढ़ का प्रभारी बनाया गया है. पार्टी ने कहा कि प्रवक्ता नलिन कोहली को नगालैंड और मणिपुर की जिम्मेदारी सौंपी गयी है. बिहार के मंत्री मंगल पांडेय को झारखंड का प्रभारी बनाया गया.

(इनपुट भाषा से)