close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

हरियाणा: त्रिशुंक विधानसभा के आसार, खट्टर दिल्‍ली तलब, JJP के पास सत्‍ता की चाबी

बीजेपी के केंद्रीय नेतृत्‍व ने हरियाणा के मुख्‍यमंत्री मनोहर लाल खट्टर को दिल्‍ली बुलाया है.

हरियाणा: त्रिशुंक विधानसभा के आसार, खट्टर दिल्‍ली तलब, JJP के पास सत्‍ता की चाबी

नई दिल्ली: हरियाणा (Haryana Assembly Elections 2019) और महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव (Maharashtra Assembly Elections 2019) के रुझानों में बीजेपी भले ही दोनों राज्‍यों में अपने दम पर सबसे बड़ी पार्टी बनती दिख रही हो लेकिन पिछले चुनाव की तुलना में उसकी सीटें घटती दिख रही हैं. हरियाणा में हालांकि बीजेपी और कांग्रेस के बीच टक्‍कर के कारण त्रिशंकु विधानसभा के आसार दिख रहे बनते दिख रहे हैं. नतीजतन सियासी दांवपेंच का खेल शुरू हो गया है. बीजेपी के केंद्रीय नेतृत्‍व ने हरियाणा के मुख्‍यमंत्री मनोहर लाल खट्टर को दिल्‍ली बुलाया है. रुझानों के मुताबिक दुष्‍यंत चौटाला की पार्टी जेजेपी 11 सीटों पर आगे चल रही है. यानी जेजेपी किंगमेकर बनकर उभरी है.

रुझानों के आने के साथ ही बदलते सियासी समीकरणों के बीच कांग्रेस ने सरकार बनाने के लिए जेजेपी से संपर्क किया है. सूत्रों के मुताबिक कांग्रेस ने जेजेपी नेता दुष्यंत चौटाला से संपर्क किया है. सूत्रों के मुताबिक त्रिशंकु विधानसभा होने पर कल जेजेपी अपने विधायकों से मंत्रणा करेगी. कल विधायकों से रायशुमारी कराई जा सकती है. विधायक दल की बैठक में तय होगा कि किसके साथ जाना है. इस बीच दुष्‍यंत चौटाला ने इन रुझानों के बीच दावा करते हुए कहा भी है कि मेरे पास सत्‍ता की चाबी है. हरियाणा में बदलाव होगा. वैसे मौजूदा रुझानों के मुताबिक बीजेपी 40 और कांग्रेस 30 सीटों पर आगे है. जेजेपी 11 और अन्‍य 7 सीटों पर आगे है.

हालांकि पूर्व मुख्‍यमंत्री और कांग्रेस नेता भूपिंदर सिंह हुड्डा ने भी दावा करते हुए कहा कि कांग्रेस को पूर्ण बहुमत मिलेगा और सरकार कांग्रेस की ही बनेगी. हुड्डा ने सोनिया गांधी, गुलाम नबी आजाद और अहमद पटेल से बात की है. वहीं हरियाणा की प्रदेश कांग्रेस अध्‍यक्ष कुमारी शैलजा ने सोनिया गांधी से मुलाकात की है.

महाराष्‍ट्र
महाराष्‍ट्र के रुझानों पर शिवसेना नेता संजय राऊत ने बड़ा बयान देते हुए कहा कि बीजेपी के साथ महाराष्‍ट्र में हमारा फॉर्मूला 50-50 का था, हम बराबर के साझेदार हैं. नतीजों के बाद सीएम पद के लिए बीजेपी से बातचीत होगी. महाराष्‍ट्र में शिवसेना-बीजेपी सरकार बनेगी. गौरतलब है कि महाराष्‍ट्र की 288 सीटों में से बीजेपी-शिवसेना गठबंधन 163 सीटों पर आगे है. इनमें से बीजेपी 103, शिवसेना 60, कांग्रेस 41, एनसीपी 52 सीटों पर आगे है. अन्‍य 32 सीटों पर आगे हैं. इस तरह रुझानों के मुताबिक सत्‍तारूढ़ गठबंधन को भले ही बहुमत मिलता दिख रहा हो लेकिन 2014 के चुनावों की तरह बीजेपी और शिवसेना का प्रदर्शन नहीं दिख रहा है. 2014 के विधानसभा चुनाव में बीजेपी को 122 सीटें मिली थीं और शिवसेना को 61 सीटों पर जीत मिली थी.

LIVE TV

UP
उत्तर प्रदेश में 11 सीटों पर हुए उपचुनावों की मतगणना के शुरुआती रूझानों में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) को झटका लगा है. भाजपा को छह सीटों पर बढ़त मिलती दिख रही है. जबकि तीन सीटों पर समाजवादी पार्टी (सपा) आगे चल रही है. कांग्रेस और बसपा एक-एक सीट पर आगे चल रही हैं.

बिहार
बिहार में लोकसभा की एक और 5 विधानसभा सीटों पर हुए उपचुनाव की गुरुवार को चल रही मतगणना के शुरूआती रूझान में राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) तीन सीटों पर आगे चल रही है जबकि निर्दलीय, एआईएमआईएम और राजद एक-एक सीट पर आगे चल रहे हैं. समस्तीपुर लोकसभा से राजग की ओर से लोजपा प्रत्याशी प्रिंस कुमार ने 40 से अधिक मतों से आगे चलते हुए निर्णायक बढ़त बना ली है.

झाबुआ
मध्य प्रदेश के झाबुआ विधानसभा क्षेत्र के शुरुआती रुझान में कांग्रेस उम्मीदवार कांतिलाल भूरिया भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के उम्मीदवार भानु भूरिया पर बढ़त बना ली है.

तेलंगाना
प्रदेश में सत्तारूढ़ तेलंगाना राष्ट्र समिति (टीआरएस) ने हुजूरनगर विधानसभा सीट पर हुए उपचुनाव की गुरुवार को हो रही मतगणना में शुरुआती बढ़त हासिल की है.

सतारा
सतारा लोकसभा उपचुनाव में शरद पवार की पार्टी एनसीपी आगे चल रही है. भले ही महाराष्‍ट्र में बीजेपी-शिवसेना दो-तिहाई बहुमत की ओर बढ़ रही है लेकिन मतगणना से पहले ही महाराष्‍ट्र में बीजेपी जीत को लेकर पहले से ही आश्‍वस्‍त लग रही थी. इसकी बानगी इस रूप में समझी जा सकती है कि मतगणना से ही राज्‍य बीजेपी के दफ्तर में लड्डू तैयार किए जा रहे थे. पूरे बीजेपी ऑफिस को दुल्‍हन की तरह सजा दिया गया था.

केरल
पांच विधानसभा सीटों पर हुए उपचुनाव के शुरुआती रुझानों में कांग्रेस की अगुआई वाले यूनाइटेड डेमोक्रेटिक फ्रंट (यूडीएफ) ने चार सीटों पर बढ़त बनाई हुई है वहीं शेष एक सीट पर माक्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) आगे है.