परिवारवाद के तहत चलने वाली सरकार जनता की सेवा नहीं कर सकती : अमित शाह

अमित शाह ने आरोप लगाया, 'हम ममता दीदी की सरकार द्वारा राज्य में फैलाई जा रही अराजकता का विरोध करते हैं तो हमारे कार्यकर्ताओं की हत्या कर दी जाती है.' 

परिवारवाद के तहत चलने वाली सरकार जनता की सेवा नहीं कर सकती : अमित शाह
बीजेपी अध्यक्ष ने कहा कि देश भर में फैले बंगाली आज सोनार बांग्ला को ढूंढ रहे है 2019 का लोक सभा चुनाव सोनार बांग्ला के निर्माण का चुनाव है : बंगाल की जनता को अब परिवर्तन चाहिए. (फोटो साभार @AmitShah)

कांठी: बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने प्रियंका गांधी को कांग्रेस महासचिव बनाये जाने के फैसले का उपहास उड़ाते हुए मंगलवार को कहा कि किसी एक परिवार द्वारा चलाई जाने वाली सरकार लोगों की सेवा नहीं कर सकती, बल्कि सिर्फ एक मजबूर सरकार ही दे सकती है. 

अमित शाह ने एक जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि 'यूपीए के शासनकाल में हमने टूजी जैसे बड़े घोटाले देखे थे. अब अधिक भ्रष्टाचार के लिये तीसरा ‘जी’ (गांधी) भी आ गया है... पहले सोनिया जी, राहुल जी थे ही और अब हमारे पास प्रियंका जी (गांधी) हैं. फिर घोटाले का आकार क्या होगा?'

कांग्रेस नीत यूपीए 2 सरकार के समय के 2जी घोटाले का जिक्र करते हुए अमित शाह ने कहा कि अब तीसरा जी.. प्रियंका जी को शामिल करके विपक्षी पार्टी अधिक भ्रष्टाचार करना चाहती है . 

'अब अगर तीसरा जी जुड़ जाए तब घोटाले का आकार क्या होगा'
अमित शाह ने कहा, 'मैं आपको बताना चाहता हूं कि मनमोहन सिंह के नेतृत्व में यूपीए के 10 वर्षो के कार्यकाल में केवल दो जी थे.. सोनिया गांधी, राहुल गांधी . तब हमने 2जी घोटाला समेत 12 लाख करोड़ रूपये का घोटाला देखा था . अब अगर तीसरा जी जुड़ जाए तब घोटाले का आकार क्या होगा ? कांग्रेस ने भ्रष्टाचार की दीर्घकालिक योजना बनाई है .'

उन्होंने पश्चिम बंगाल की ममता बनर्जी नीत तृणमूल कांग्रेस सरकार की भी आलोचना की और कहा कि आगामी लोकसभा चुनाव से राज्य में लोकतंत्र बहाल होगा. बीजेपी अध्यक्ष ने यहां एक रैली में कहा, 'लोकसभा चुनाव के बाद नरेंद्र मोदी फिर से प्रधानमंत्री चुने जाएंगे. लेकिन पश्चिम बंगाल में चुनाव लोकतंत्र बहाल करने के लिए है.' 

टीएमसी सरकार पर साधा निशाना
उन्होंने कहा कि बंगाल में जब कांग्रेस थी तो राज्य में गरीबी की शुरुआत हुई, कम्युनिस्ट आए तो हिंसा की शुरुआत हुई और अब ममता बनर्जी के कार्यकाल में गरीबी और हिंसा के साथ-साथ सिंडिकेट भी चालू हो गया है .

अमित शाह ने आरोप लगाया, 'हम ममता दीदी की सरकार द्वारा राज्य में फैलाई जा रही अराजकता का विरोध करते हैं तो हमारे कार्यकर्ताओं की हत्या कर दी जाती है.' उन्होंने जोर दिया कि बीजेपी के कार्यकर्ता रथ यात्रा लेकर बंगाल के घर-घर तक संपर्क करना चाहते थे, लेकिन बंगाल की सरकार ने हमें बंगाल की जनता से मिलने नहीं दिया. बीजेपी का एक-एक कार्यकर्ता बंगाल की जनता के घर-घर जाकर लोकतंत्र की स्थापना करने का काम करेगा . 

बीजेपी अध्यक्ष ने कहा कि देश भर में फैले बंगाली आज सोनार बांग्ला को ढूंढ रहे है 2019 का लोक सभा चुनाव सोनार बांग्ला के निर्माण का चुनाव है : बंगाल की जनता को अब परिवर्तन चाहिए.

(इनपुट -भाषा)