भाजपा से गोवा में खनन गतिरोध हल करने की उम्मीद नहीं है: जीएमपीएफ

गांवकर ने कहा किअमित शाह ने केवल एक वाक्य में इस मुद्दे पर बोला वह स्पष्ट संकेत है कि वे इतनी बड़ी समस्या के बारे में गंभीर नहीं हैं.

भाजपा से गोवा में खनन गतिरोध हल करने की उम्मीद नहीं है: जीएमपीएफ
गांवकर ने बताया कि जीएमपीएफ ने 28 फरवरी को खनन क्षेत्र में बंद का भी आह्वान किया है. (फाइल फोटो)

पणजीः भाजपा प्रमुख अमित शाह के गोवा में खनन गतिरोध पर दिए बयान के एक दिन बाद इस क्षेत्र पर निर्भर लोगों के एक संगठन ने रविवार को कहा कि उसे सत्तारूढ़ पार्टी से ज्यादा उम्मीद नहीं है. शाह ने कहा था कि उनकी पार्टी राज्य में खनन गतिरोध का हल ढूंढने के लिए सर्वश्रेष्ठ प्रयास करेगी. उन्होंने शनिवार को यहां ‘अटल बूथ कार्यकर्ता सम्मेलन’ में भाजपा कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए यह बात कही.

मानव मस्तिष्क किसी भी बीमारी का इलाज खोज सकता है: मनोहर पर्रिकर

शाह ने शनिवार को कहा था, ‘‘हम गोवा में बंद हो गए खनन को बहाल करने के लिए हर संभव प्रयास करेंगे.’’ भाजपा प्रमुख के बयान पर प्रतिक्रिया करते हुए ‘गोवा माइनिंग पीपुल्स फ्रंट’ के पुती गांवकर ने कहा, ‘‘हमें गोवा के दौरे के दौरान खनन क्षेत्र के मुद्दे से बचने के अमित शाह के कदम के बाद अब भाजपा से ज्यादा उम्मीद नहीं हैं’’ 

VIDEO: दोस्तों के साथ मस्ती कर रही थीं सनी लियोनी, सोचा भी नहीं था ऐसा हो जाएगा

उन्होंने कहा कि ‘‘जिस तरह अमित शाह ने केवल एक वाक्य में इस मुद्दे पर बोला वह स्पष्ट संकेत है कि वे इतनी बड़ी समस्या के बारे में गंभीर नहीं हैं.’’ उन्होंने बताया कि जीएमपीएफ ने खनन क्षेत्र को बहाल करने के लिए भविष्य के कदम पर फैसला लेने के मकसद से 14 फरवरी को उत्तर गोवा में एक जनसभा बुलाई है. गांवकर ने बताया कि जीएमपीएफ ने 28 फरवरी को खनन क्षेत्र में बंद का भी आह्वान किया है.