'जय श्री राम' के जयकारों के बीच PM मोदी ने कहा- 'अमित भाई का कार्यकाल हमेशा याद रहेगा'

 प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को बीजेपी मुख्यालय में 'जय श्री राम' के जयकारों के बीच कहा, "अमित भाई का कार्यकाल हमेशा याद रहेगा." 

'जय श्री राम' के जयकारों के बीच PM मोदी ने कहा- 'अमित भाई का कार्यकाल हमेशा याद रहेगा'
जेपी नड्डा को निर्विरोध बीजेपी का नया अध्यक्ष चुना गया. फोटो-@BJP4India

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को बीजेपी मुख्यालय में 'जय श्री राम' के जयकारों के बीच कहा, "अमित भाई का कार्यकाल हमेशा याद रहेगा." उन्होंने भाजपा अध्यक्ष के तौर पर शाह के काम की प्रशंसा कर नवनियुक्त पार्टी अध्यक्ष जेपी नड्डा के लिए वैसा ही बेहतर काम करने का संदेश दिया और एहसास दिलाया कि यह किसी चुनौती से कम नहीं है. नड्डा को बड़ी जिम्मेदारी मिलने के बाद उन्हें एक संदेश देते हुए पीएम मोदी ने कहा, "यह संघर्ष और संगठन ही है, जिसने बीजेपी को यहां तक पहुंचाया.

बीजेपी की विशेषता रही है कि हम एक सुचारू ढंग से चलने वाली व्यवस्था के तहत आगे बढ़ते हैं. हम लंबे अरसे तक मां भारती की सेवा करने के लिए आए लोग हैं. हमें सदियों तक यही काम करना है. जिन अपेक्षाओं से इस पार्टी का जन्म हुआ है, उसे पूरा किए बगैर चैन से बैठना नहीं है."

यह भी देखें:-

उन्होंने शाह के साथ तुलना को अपरिहार्य बताते हुए और उनकी उपलब्धियों के लिए शाह को श्रेय देते हुए कहा, "बीजेपी ने थोड़े समय में विस्तार किया, लोगों की आकांक्षाओं को पूरा किया और खुद को समय के साथ बदला." उन्होंने नड्डा से सतर्कता बरतने का संदेश देते हुए कहा, "मुझे यकीन है कि जे.पी. नड्डा के नेतृत्व में पार्टी अपने मूल मूल्यों के साथ आगे बढ़ेगी. बीजेपी को भविष्य में और कठिनाई का सामना करना पड़ सकता है और हमें तैयार रहना चाहिए." मोदी संकेतों में नागरिकता संशोधन अधिनियम (सीएए) का चल रहे विरोध का जिक्र भी किया.

प्रधानमंत्री ने इस दौरान मोदी ने संचार के पारंपरिक माध्यमों के स्थान पर नए इनोवेशन अपनाने पर जोर दिया. उन्होंने कार्यकर्ताओं से ट्विटर जैसे सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म के जरिए लोगों से जुड़े रहने की बात कही. पीएम मोदी ने पार्टी कैडर से आग्रह किया कि वे पार्टी की स्थिति बताने के लिए घर-घर जाएं और संचार के पारंपरिक माध्यम पर भरोसा न करें. इससे पहले, नड्डा को निर्विरोध भाजपा का नया अध्यक्ष चुना गया, जिन्होंने निवर्तमान अध्यक्ष अमित शाह से पार्टी की बागडोर संभाली.