close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

बी एस येदियुरप्पा ने की कर्नाटक विधानसभा भंग कर नए सिरे से चुनाव कराने की मांग

पूर्व मुख्यमंत्री ने भाजपा के किसी विधायक के कांग्रेस या जेडीएस में शामिल होने की संभावना को भी खारिज कर दिया.

बी एस येदियुरप्पा ने की कर्नाटक विधानसभा भंग कर नए सिरे से चुनाव कराने की मांग
येदियुरप्पा ने कहा कि राज्य की 28 लोकसभा सीटों में से 25 में हमने जीत हासिल की है

नई दिल्ली: भाजपा की कर्नाटक इकाई के अध्यक्ष बी एस येदियुरप्पा ने मंगलवार को कहा कि बेहतर होगा कि राज्य में सत्तारूढ़ कांग्रेस-जेडीएस गठबंधन विधानसभा को भंग कर दे और नये सिरे से चुनाव हों.

पूर्व मुख्यमंत्री ने भाजपा के किसी विधायक के कांग्रेस या जेडीएस में शामिल होने की संभावना को भी खारिज कर दिया. येदियुरप्पा ने कहा कि राज्य की 28 लोकसभा सीटों में से 25 में हमने जीत हासिल की है और 224 विधानसभाओं में से 177 में हम नंबर एक पर हैं. उन्होंने कहा, 'बेहतर होगा कि वे विधानसभा भंग कर दें और नये सिरे से चुनाव कराएं. हम इसका स्वागत करेंगे'. 

येदियुरप्पा ने यहां सवाददाताओं से कहा कि भाजपा का एक भी विधायक कांग्रेस या जनता दल एस में नहीं जाएगा जैसा कि ये दल दावा कर रहे हैं. उन्होंने कहा, 'मैं परेशान नहीं हूं. यह असंभव है. वे भ्रम पैदा करने के लिए ऐसा कह रहे हैं'.

लोकसभा चुनाव में कांग्रेस-जेडीएस गठबंधन को झटका लगा है जहां दोनों दल केवल एक ही सीट पर जीत दर्ज कर पाए. दोनों गठबंधन सहयोगियों के बीच असहमति भी बढ़ रही है. उनके कुछ सदस्यों ने दावा किया है कि गठबंधन में चुनाव लड़ने की वजह से उनकी पार्टियों का प्रदर्शन इतना खराब रहा. सरकार बचाने के लिए मुख्यमंत्री एच डी कुमारस्वामी सक्रिय हो गये हैं और असंतुष्ट विधायकों, खासकर कांग्रेस सदस्यों के साथ निजी तौर पर मिल रहे हैं और उन्हें मनाने की कोशिश कर रहे हैं.

पिछले कुछ समय से भाजपा नेताओं के साथ मित्रता दिखा रहे असंतुष्ट कांग्रेस विधायक रमेश जरकिहोली ने लोकसभा चुनाव के बाद कुछ विधायकों के साथ पार्टी छोड़ने की धमकी दी है. इसके बाद गठबंधन के नेताओं की चिंता बढ़ गयी है.