close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

भ्रष्टाचार के खिलाफ CBDT का एक्शन, 15 भ्रष्ट अफसरों को जबरन किया रिटायर

इससे पहले कुल 49 सीनियर टैक्स अफसरों (Senior Tax Officers) को कंपल्सरी रिटायरमेंट (compulsorily retirement) दी जा चुकी है

भ्रष्टाचार के खिलाफ CBDT का एक्शन, 15 भ्रष्ट अफसरों को जबरन किया रिटायर
(प्रतीकात्मक तस्वीर)

नई दिल्ली: केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (CBDT) ने आज 27 सितंबर को 15 नये सीनियर ऑफिसर्स को कम्पलसरी रिटायरमेंट (compulsorily retirement) दे दिया है. बताया जा रहा है कि इन ऑफिसर का नाम भ्रष्टाचार (corruption) और सीबीआई (CBI) की अनियमितता की लिस्ट में था. CBDT ने जिन 15 ऑफिसर्स को‌ कंपलसरी रिटायरमेंट दिया है उनके नाम ओपी मीना, शैलेन्द्र मामिदी, पीके बजाज, संजीव घई, के जयप्रकाश, वी अप्पाला राजू, राकेश एच शर्मा, नितिन गर्ग, ए फजलुल्ला, कृपा सागर दास, पीजे कुंजीप्लू, सी जे विंसेंट, टी के भट्टाचार्य, के पी त्रिपाठी और एस आर सेनापति हैं.

इससे पहले भी वित्त मंत्रालय (Finance Ministry) के अंतर्गत CBDTऔर  CBIC ने भ्रष्टाचार के केस में लिप्त ऑफिसर्स को हटाया है. इन ऑफिसर को फंडामेंटल रुल 56-J के तहत कंपलसरी रिटायरमेंट (compulsorily retirement) देकर हटाया गया है. जानकारी के मुताबिक हटाए गए सभी अधिकारी सीआईटी, जेसीआईटी, एडिशनल सीआईटी जैसे बड़े पदों पर कार्यरत थे. इन सभी पर भ्रष्टाचार (corruption) के आरोप थे इसी वजह से इन्हें पब्लिक इंटरेस्ट में 56 (जे) के तहत हटाया गया है.

देखें लाइव टीवी

इससे पहले कुल 49 सीनियर टैक्स अफसरों (Senior Tax Officers) को कंपल्सरी रिटायरमेंट (compulsorily retirement) दी जा चुकी है. इस साल जून महीने में भी हाई रैंक वाले भारतीय राजस्व सेवा के 27 अधिकारियों को जबरन रिटायर कर दिया गया था. गौरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने 15 अगस्त को लाल किले से दिए भाषण में भी टैक्स अधिकारियों की ओर से उत्पीड़न करने पर चिंता जताई थी. उन्होंने कहा था कि करदाताओं (tax payers) को परेशान नहीं किया जाना चाहिए.