close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

कोलकाता: राजीव कुमार का पता लगाने के लिए सीबीआई स्पेशल टीम का गठन किया

CBI आगे क्या कारवाई की जाए इस पर सलाह ले रही है. उसी के बाद तय होगा की आगे क्या कारवाई की जाएगी.

कोलकाता: राजीव कुमार का पता लगाने के लिए सीबीआई स्पेशल टीम का गठन किया

नई दिल्लीः कोलकाता के पूर्व पुलिस आयुक्त राजीव कुमार का पता लगाने के लिए सीबीआई ने मंगलवार को विशेष टीम का गठन किया है, क्योंकि वह जांच में शामिल होने से बच रही है. बता दें कि आज भी सीबीआई के सामने पेश नहीं हुए. शारदा चिटफंड घोटाले मामले में सीबीआई राजीव कुमार से पूछताछ करना चाहती है, लेकिन राजीव कुमार इस पूछताछ से लगातार बच रहे हैं. सीबीआई ने पश्चिम बंगाल के डीजीपी और गृह सचिव को कोलकाता के पूर्व पुलिस आयुक्त राजीव कुमार को सोमवार को CBI के सामने 2 बजे पेश करने के लिये कहा था.

डीजीपी ने सीबीआई को बताया कि राजीव कुमार को बता दिया गया है, लेकिन राजीव कुमार पेश नहीं हुए. इसके बाद फिर से सीबीआई ने डीजीपी को आज सुबह 10 बजे राजीव कुमार को पेश करने के लिये कहा था लेकिन राजीव कुमार आज भी नहीं आए. CBI आगे क्या कारवाई की जाए इस पर सलाह ले रही है. उसी के बाद तय होगा की आगे क्या कारवाई की जाएगी.

राजीव कुमार ने सीबीआई से 1 महीने का समय मांगा है लेकिन सीबीआई उन्हें 1 महीने की छूट देने को तैयार नहीं है.

13 सितंबर को कोलकाता हाईकोर्ट द्वारा पूर्व पुलिस आयुक्त राजीव कुमार के शारदा चिट फंड घोटाला मामले में गिरफ्तारी पर अंतरिम रोक वापस लिए जाने के तुंरत बाद सीबीआई अधिकारी उनके आधिकारिक आवास पर नोटिस देने पहुंचे थे.

हाईकोर्ट द्वारा गिरफ्तारी पर रोक वापस लेने से आईपीएस अधिकारी राजीव कुमार को झटका लगा है. इससे सीबीआई को पोंजी घोटाले की जांच के संबंध में राजीव कुमार को एजेंसी के समक्ष प्रस्तुत होने के लिए कहने का अवसर मिला है. इस घोटाले में लाखों लोगों ने अपनी मेहनत की कमाई खो दी और कुछ लोगों को अपना जीवन खत्म करना पड़ा.