IPL 2018 : चेन्नई vs कोलकाता मैच पर छाए संकट के बादल, स्टेडियम के बाहर विरोध-प्रदर्शन

मैच के शांतिपूर्ण आयोजन के लिए आईपीएल के अध्यक्ष राजीव शुक्ला ने केंद्रीय गृह सचिव राजीव गौबा से मुलाकात की और मैच के दौरान चेन्नई में सुरक्षा के मुद्दे पर चर्चा की.

IPL 2018 : चेन्नई vs कोलकाता मैच पर छाए संकट के बादल, स्टेडियम के बाहर विरोध-प्रदर्शन
कावेरी प्रबंधन बोर्ड के गठन की मांग पर तमिलनाडु में विरोध-प्रदर्शन लगातार बढ़ रहा है

चेन्नई : तमिलनाडु की राजनीति में इन दिनों कावेरी प्रबंधन बोर्ड के गठन को लेकर तूफान आया हुआ है. यहां सत्ता, विपक्ष और अन्य सामाजिक संगठन बोर्ड के गठन पर केंद्र के सुस्त रवैये के खिलाफ विरोध-प्रदर्शन कर रहे हैं. अब इस विरोध की जद में चेन्नई में होने वाला आईपीएल मैच भी आ गया है. विरोध कर रहे संगठनों की मांग है कि जब तक केंद्र सरकार राज्य के पक्ष में कोई फैसला ना ले, तब तक इस तरह के आयोजन नहीं किए जाएं. स्टेडियम के आसपास बड़ी संख्या में प्रदर्शनकारी इकट्ठा हो गए हैं.  उधर, मैच को लेकर स्टेडियम के आसपास सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं.

कावेरी जल विवाद को निपटाने के लिए सुप्रीम कोर्ट के निर्देश के बाद भी केंद्र सरकार ने कावेरी प्रबंधन बोर्ड का गठन नहीं किया है. इसी मुद्दे पर तमिलनाडु में लगातार विरोध-प्रदर्शन हो रहे हैं.

स्टेडियम के बाहर इकट्ठा हुए प्रदर्शनकारी
बता दें कि आज मंगलवार को चेन्नई में चेन्नई और कोलकाता की टीमों के बीच मुकाबला होना है और इस मैच के सारे टिकट भी बिक चुके हैं. प्रशासन ने मैच के आयोजन को लेकर सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए हैं, लेकिन राजनीतिक और सामाजिक संगठन मैच के खिलाफ लगातार एकजुट होते जा रहे हैं.

IPL

कुछ संगठनों ने स्टेडियम के आसपास डेरा भी डाल दिया है. एक संगठन टीवीके के कार्यकर्ता एमए चिदंबरम स्टेडियम के बाहर इकट्ठा हो गए हैं. प्रदर्शनकारी हाथों में काले रंग के गुब्बरे और बैनर लिए हुए हैं, जिन पर लिखा है, 'हम आईपीएल मैच नहीं चाहते, हमें कावेरी प्रबंधन बोर्ड चाहिए.'

राजीव शुक्ला ने गृह सचिव से की मुलाकात
उधर, मैच के शांतिपूर्ण आयोजन के लिए आईपीएल के अध्यक्ष राजीव शुक्ला ने केंद्रीय गृह सचिव राजीव गौबा से मुलाकात की और मैच के दौरान चेन्नई में सुरक्षा के मुद्दे पर चर्चा की. इस पर गृह सचिव ने कहा कि पूरे इलाके में सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं. मुलाकात के बाद राजीव शुक्ला ने मीडिया को बताया कि गृह सचिव ने तमिलनाडू के डीजीपी से बात कर उन्हें सुरक्षा के कड़े इंतजाम करने के निर्देश दिए हैं. 

रजनीकांत ने भी किया विरोध
कावेरी प्रबंधन बोर्ड पर राज्य में इस कदर विरोध बढ़ गया है कि दक्षिण भारत के सुपरस्टार रजनीकांत ने भी आईपीएल मैच पर अपना विरोध जताया. रजनीकांत ने कहा कि चेन्नई के खिलाड़ियों को मैच नहीं खेलना चाहिए. उन्होंने कहा कि अगर मैच खेला भी जा रहा है तो खिलाड़ियों को काली पट्टी बांध कर मैच खेलना चाहिए. 

यह भी पढ़ें-  कावेरी जल विवाद: प्रदर्शन से तमिलनाडु में रेल, सड़क परिवहन प्रभावित

कावेरी प्रबंधन बोर्ड
कावेरी नदी के पानी के बंटवारे को लेकर तमिलनाडु और कर्नाटक में एक लंबे समय से विवाद चल रहा है. कावेरी नदी कर्नाटक के कोडागु जिले से निकलती है. 750 किलोमीटर लंबी नदी के बेसिन में कर्नाटक का 32,000 वर्ग किलोमीटर और तमिलनाडु का 44,000 वर्ग किलोमीटर का इलाका आता है. नदी के पानी के बंटवारे पर विवाद 1892 से चल रहा है. उस समय मद्रास प्रेसीडेंसी और मैसूर रियासत के बीच एक समझौता भी हुआ था. केंद्र सरकार ने 1990 में कावेरी ट्राइब्यूनल भी बनाया. लेकिन ट्राइब्यूनल भी इस विवाद को नहीं सुलझा पाया और मामला सुप्रीम कोर्ट पहुंच गया. कुछ समय पहले सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र को निर्देश दिए थे कि इस मुद्दे पर कावेरी प्रबंधन बोर्ड का गठन किया जाए, लेकिन केंद्र ने बोर्ड का गठन नहीं किया है. अब इसी मुद्दे पर तमिलनाडु में लगातार विरोध-प्रदर्शन हो रहे हैं.