चीनी सरकारी अखबार ने ‘गुजरात मॉडल’ पर उठाए सवाल

चीन के एक सरकारी दैनिक अखबार ने पटेलों के आरक्षण आंदोलन को लेकर विकास के ‘गुजरात मॉडल’ पर सवाल उठाएं हैं और कहा है कि यह मॉडल अच्छा था तो राज्य में अचानक इतना बड़ा और हिंसक आंदोलन कैसे भड़का।

बीजिंग : चीन के एक सरकारी दैनिक अखबार ने पटेलों के आरक्षण आंदोलन को लेकर विकास के ‘गुजरात मॉडल’ पर सवाल उठाएं हैं और कहा है कि यह मॉडल अच्छा था तो राज्य में अचानक इतना बड़ा और हिंसक आंदोलन कैसे भड़का।

सत्तारुढ कम्युनिस्ट पार्टी की अखबार 'ग्लोबल टाइम्स' में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की आलोचना में लिखी किसी बात का यह विरला उदाहरण है। अखबार के संपादकीय पृष्ठ पर लिखे एक लेख में कहा गया है, ‘यदि गुजरात मॉडल इतना सफल और परिवर्तनकारी था तो जाति विशेष पर केंद्रित इतना बड़ा जमावड़ा कैसे खड़ा हुआ और यह हिंसक रूप ले लिया।’ लेख में कहा गया है कि, ‘यह वर्तमान आंदोलन उस समृद्ध और गुंजायमान गुजरात की छवि पर सवाल खड़ा करता है जिसको मोदी ने दुनिया के सामने पेश करने का प्रयास किया था।’