... कुछ इस तरह स्‍कूलों में 'खतरे की तलवार' से मासूमों को बचाएगी सीआईएसएफ

गुरुग्राम के एक निजी स्‍कूल में मासूम की हत्‍या के बाद सीआईएसएफ ने स्‍कूलों में बच्‍चों की सुरक्षा पुख्‍ता करने के लिए बढ़ाए थे कदम, इस मुहिम में सीआईएसएफ से जुड़ चुके हैं देश के नामी 33 स्‍कूल. 

... कुछ इस तरह स्‍कूलों में 'खतरे की तलवार' से मासूमों को बचाएगी सीआईएसएफ
नई दिल्‍ली: स्‍कूल में मौजूद अनजान खतरों से मासूमों को बचाने के लिए केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (सीआईएसएफ) ने खास पहल शुरू की है. इस पहल के तहत, सीआईएसएफ स्‍कूल प्रबंधन को इस बात की तकनीकी परामर्शी सेवाएं दे रहा है कि किस तरह खतरे से समय रहते भांप कर बच्‍चों पर आने वाली अनहोनी को टाला जा सकता है. उल्‍लेखनीय है कि सीआईएसएफ ने इस मुहिम की शुरूआत बीते वर्ष गुरुग्राम के निजी स्‍कूल में एक मासूम की हत्‍या के बाद शुरू की थी. सीआईएसएफ की मुहिम में अब तक देश के प्रतिष्ठित 33 स्‍कूल जुड़ चुके हैं. जिन्‍हें सीआईएसएफ दौरा सुरक्षा के बाबत तकनीकी परामर्श उपलब्‍ध कराया जा रहा है. 
 
सीआईएसएफ के महानिदेशक राजेश रंजन ने बताया कि तकनीकी परामर्शी सेवाओं के तहत स्‍कूलों को बताया जा रहा है कि स्‍कूल के बाहर और भीतर किस तरह की सुरक्षा व्‍यवस्‍था हो. स्‍कूल परिसर में कहां-कहां और किस दिशा में सीसीटीवी कैमरों की मौजूदगी हो. किन क्षेत्रों में छात्र-छात्राओं का जाना प्रतिबंधित हो. इसके अलावा, स्‍कूल के स्‍टाफ को बिहेवियर और प्रोफाइलिंग की ट्रेनिंग भी दी जा रही है. जिससे बच्‍चों के हावभाव से उनके दिमाग में चल रही बातों का पता लगाया जा सके. सीआईएसएफ के प्रयास से स्‍कूलों में आय दिन होने वाली अप्रिय घटनाओं और वारदातों को रोका जा सकेगा. सीआईएसएफ के इस प्रयास को तमाम प्रतिष्‍ठानों द्वारा खासा सराहा गया है. 
 
192 संस्‍थानों को सीआईएसएफ दे चुकी है परामर्शी सेवाएं 
महानिदेशक राजेश रंजन के अनुसार, वर्ष 1999 में सीआईएसएफ को तकनीकी परामर्शी सेवा देने के लिए प्राधिकृत किया गया था. जिसके पश्चात् सीआईएसएफ सरकारी और निजी क्षेत्र के प्रतिष्ठानों की सुरक्षा व अग्नि सुरक्षा सेवा संबंधी तकनीकी सेवाऐं प्रदान करना शुरू किया. परामर्शी सेवा विंग द्वारा अब तक विभिन्न सरकारी, अर्धसरकारी व निजी क्षेत्रों के 192 संस्थानों को सुरक्षा व फायर की तकनीकी परामर्शी सेवाऐं दी जा चुकी हैं. सीआईएसएफ ने अपनी विशेषज्ञता सुरक्षा के डिजायनिंग व फायर प्रोटेक्शन सिस्टम पर अपने क्लाईंट्स से साझा की है, जिनमें आईआईएम इंदौर, बजाज ऑटो लिमिटेड, इन्फोसिस लिमिटेड लखनऊ बेंच व इलाहाबाद उच्च न्यायालय, सेंटर जेल भोपाल, आईएनए इत्यादि प्रमुख हैं.  
 
सीआईएसएफ के परामर्श से भारत सरकार को मिले 12 करोड़ रुपए 
महानिदेशक राजेश रंजन ने बताया कि सीआईएसएफ की परामर्शी सेवा ने अब तक 12.07 करोड़ रूपये का राजस्व भारत सरकार के कोष में जमा कराया है. वर्ष 2018 में 1.78 करोड़ एवं जनवरी 2019 में 20 लाख रूपये का राजस्व भारत सरकार के कोष में जमा कराया गया है. बल ने अपने सामाजिक दायित्व को ध्यान में रखते हुए विद्यालयों के लिए सुरक्षा परामर्शी सेवा देने का प्रस्ताव दिया है. जिसे देश के करीब 33 प्रमुख संस्‍थानों ने स्‍वीकार किया है. 
 
इन 33 प्रतिष्ठित स्‍कूलों को सीआईएसएफ दे रही है सुरक्षा संबंधी तकनीकी परामर्श 
1. दि दून स्कूल, देहरादून (उत्तराखंड)
2. भारतीय विद्या भवन, केजी मार्ग, नई दिल्ली
3. विबग्योर ग्रुप ऑफ स्कूल, मुंबई (महाराष्ट्र)
4. पोदार एडुकेशन नेटवर्क मुंबई(महाराष्ट्र)
5. चिल्ड्रन वेलफेयर सेंटर हाई स्कूल, अंधेरी (वेस्ट) मुंबई (महाराष्ट्र)
6. पोद्दार वर्ल्‍ड स्कूल, गुजरात, जयपुर, नागपुर एवं मुंबई (महाराष्ट्र)
7. ऑक्रीज इंटरनेशनल स्कूल, हैदराबाद (तेलंगाना)
8. चिरेक इंटरनेशनल स्कूल, हैदराबाद (तेलंगाना)
9. ऑरचिड्स इंटरनेशनल स्कूल बैंगलुरू, मुंबई, पूणे एवं हैदराबाद
10. सिल्वर ऑक इंटरनेशनल स्कूल, बैंगलुरू (कर्नाटक)
11. विस्डम वर्ल्‍ड स्कूल, कुरूक्षेत्र (हरियाणा)
12. ला मार्टिनेरे, कोलकाता (पश्चिम बंगाल)
13. सेंट जेवियर्स इंस्टीट्यूशन, कोलकाता (पश्चिम बंगाल)
14. स्मार्ट वन्डर्स स्कूल, मोहाली (पंजाब)
15. जीईएमएस अकादिमिया इंटरनेशनल स्कूल, कोलकाता(पश्चिम बंगाल)
16. जी लर्न लिमिटेड, अंधेरी (वेस्ट), मुंबई (महाराष्ट्र)
17. श्री विद्यानिकेतन एडुकेशन इंटरनेशनल स्कूल, तिरूपति (आंध्र प्रदेश)
18. एसीयन इंटरनेशनल स्कूल, कोलकाता (पश्चिम बंगाल)
19. सिंधिया स्कूल, ग्वालियर (मध्य प्रदेश)
20. श्री शिक्षायतन स्कूल एवं श्री शिक्षाचतन काॅलेज, कोलकाता (पश्चिम बंगाल)
21. बिरला हाई स्कूल, कोलकाता (पश्चिम बंगाल)
22. सैफी गोल्डेन जुबली इंगलिश पब्लिक स्कूल, कोलकाता (पश्चिम बंगाल)
23. निर्मल भारती स्कूल, द्वारका, नई दिल्ली
24. बिरला एडुकेशन ट्रस्ट, पालिनी (राजस्थान)
25. नवोदय विद्यालय, साउथ वेस्ट, दिल्ली
26. पाथवास वल्र्ड स्कूल, गुरूग्राम (हरियाणा)
27. गोर्स इंटरनेशनल स्कूल, ग्रेटर नोयडा (उत्तर प्रदेश)
28. डेली कॉलेज, इंदौर (मध्य प्रदेश)
29. ला मार्टिनियरे कालेज, लखनऊ (उत्तर प्रदेश)
30. दिल्ली पब्लिक स्कूल तापी सूरत (गुजरात)
31. एमिटि इंटरनेशनल स्कूल, सेक्टर-44, नोयडा
32. दि खैतान स्कूल, ब्लाॅक एफ, सेक्टर-40, नोयडा
33.     सुचित्रा अकादमी, सुचित्रा जंक्शन, हैदराबाद