close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

गुस्‍ताख आंखों ने CISF को बताया, मेरे बैग में है 1.13 करोड़ की विदेशी नकदी

आईजीआई एयरपोर्ट से हिरासत में लिए गए दोनो तस्‍कर करीब 1.13 करोड़ रुपए की विदेशी नकदी गैर कानूनी तरीके से हांगकांग और काबुल ले जाने का प्रयास कर रहे थे.

गुस्‍ताख आंखों ने CISF को बताया, मेरे बैग में है 1.13 करोड़ की विदेशी नकदी
CISF ने एक विदेशी सहित दो युवकों को गिरफ्तार कर आईजीआई एयरपोर्ट से करीब सवा करोड़ रुपए की विदेशी नगदी जब्‍त की है. (फाइल फोटो)

नई दिल्‍ली: अपनी हरकतों को छिपाने के लिए आप कितनी भी सफाई से झूठ बोले लें, लेकिन आपकी आंखे हमेशा सच बोलने की गुस्‍ताखी कर जाती हैं. इन्‍हीं गुस्‍ताख आंखों की मदद से CISF ने बीते 24 घंटे में विदेशी नकदी की तस्‍करी के दो प्रयासों को नाकाम किया है. आईजीआई एयरपोर्ट से हिरासत में लिए गए दोनो तस्‍कर करीब 1.13 करोड़ रुपए की विदेशी नकदी गैर कानूनी तरीके से हांगकांग और काबुल ले जाने का प्रयास कर रहे थे. CISF ने दोनों तस्‍करों को हिरासत में लेकर कस्‍टम के हवाले कर दिया है. 

CISF के सहायक महानिरीक्षक हेमेंद्र सिंह के अनुसार, दोनों ही मामले दिल्‍ली के इंदिरा गांधी अंतरराष्‍ट्रीय एयरपोर्ट के हैं. पहले मामले में अफगानिस्‍तान मूल का एक ना‍गरिक करीब 20,100 अमेरिकी डॉलर लेकर काबुल जाने का प्रयास कर रहा था. वहीं दूसरे मामले में भारतीय मूल का एक युवक करीब 1,50,700 अमेरिकी डॉलर लेकर हांगकांग जाने की कोशिश में था. CISF इंटेलीजेंस और प्री-इंबार्केशन सिक्‍योरिटी चेक टीम की सतर्कता की वजह से दोनों प्रयासों को नाकाम कर दिया गया है. दोनों तस्‍करों को हिरासत में लेकर कस्‍टम के हवाले कर दिया गया है. कस्‍टम विभाग आगे की कार्रवाई कर रहा है. 

अफगानी ना‍गरिक के बैग से निकले 20,100 डॉलर
आईजीआई एयरपोर्ट के वरिष्‍ठ अधिकारी के अनुसार, रविवार सुबह करीब सात बजे CISF इंटेलीजेंस के प्रोफाइलर्स की निगाह टर्मिनल थ्री के बाहर खड़े एक विदेश युवक पर पड़ी. इस विदेशी युवक के हवाभाव पड़ने पर प्रोफाइलर्स को लगा कि इस शख्‍स अपनी बॉडी लैंवेज से दिखाना कुछ और चाह रहा है लेकिन उसकी आंखें कुछ और बोल रही है. 

आंखों और बॉडी के बीच विरोधाभाष देख CISF की प्राइलिंग टीम ने इस शख्‍स को रैंनडम चेक के लिए चिन्हित कर लिया. इस विदेशी शख्‍स के हैंड बैगेज की चेकिंग के दौरान उसके भीतर से 20,100 अमेरिकी डॉलर बरामद किए है. बरामद विदेशी नकदी की भारतीय मुद्रा में वैल्‍यू करीब 13.79 लाख रुपए आकी गई है. 

CISF के अनुसार, इस विदेशी शख्‍स की पहचान मालिकजादा गुलाम मुर्तजा के रूप में की गई है. यह विदेशी शख्‍स मूल रूप से अफगानिस्‍तान का रहना वाला है. वह स्‍पाइस जेट की फ्लाइट SG-21 से काबुल के लिए रवाना होने वाला था. उन्‍होंने बताया कि जांच के दौरान, यह शख्‍स विदेशी नकदी के बारे में न ही कोई संतोषजनक जवाब दे सका और न ही उससे संबंधित कोई दस्‍तावेज पेश कर सका. जिसके चलते CISF ने इस विदेशी युवक को 20,100 अमेरिकी डॉलर के साथ कस्‍टम के हवाले कर दिया है. 

हांगकांग जा रहे मुसाफिर के बैग से निकले 1.50 डॉलर
दूसरी घटना का जिक्र करते हुए CISF के वरिष्‍ठ अधिकारी ने बताया कि 29 जुलाई की रात्रि करीब 11:30 बजे प्री-इंबार्केशन सिक्‍योरिटी चेक के दौरान CISF के सब-इंस्‍पेक्‍टर रनीश आर ने एक युवक को जांच के लिए रोका. इस युवक के हैंड बैग की जांच के दौरान करीब 1 लाख 50 हजार 700 अमेरिकी डॉलर बरामद किए गए. इस युवक की पहचान सिद्धार्थ चोपड़ा के रूप में की गई है. सिद्धार्थ जेट एयरवेज की फ्लाइट 9W-078 से हांग कांग के लिए रवाना होने वाला था. 

पूछताछ के दौरान सिद्धार्थ CISF के अधिकारियों के समक्ष कोई वैद्य दस्‍तावेज पेश नहीं कर सता. जिसके चलते CISF ने प्रारंभिक पूछताछ के बाद सिद्धार्थ को कस्‍टम के हवाले कर दिया है. सिद्धार्थ के कब्‍जे से बरामद किए गई विदेशी नकदी की वैल्‍यू करीब 1 करोड़ 3 लाख 38 हजार 848 रुपए आंकी गइ है. माना जा रहा है कि दोनों मामले हवाले से जुड़े हुए हैं. 

कस्‍टम और सीआईएसएफ यह पता लगाने का प्रयास कर रही है कि दोनों आरोपी किसके कहने पर इतनी बड़ी रकम देकर विदेश जा रहे थे. ऐसे कौन से लोग हैं जिनके तार विदेशों में हवाला कारोबार से जुड़े हुए हैं.