इन मौलवी ने की बकरीद के बजट का 10% केरल बाढ़ पीड़ितों को दान देने अपील

मौलवी साहब द्वारा ये अपील करने पर सोशल मीडिया में उनकी जमकर तारीफ हो रही है.

इन मौलवी ने की बकरीद के बजट का 10% केरल बाढ़ पीड़ितों को दान देने अपील
फाइल फोटो

लखनऊ: ईद-उल-अजहा के नजदीक आने के साथ ही एक प्रमुख मौलवी ने मुसलमानों से अपील की है कि वो बकरीद का त्योहार मनाने के लिए तय बजट का कम से कम 10 प्रतिश केरल में बाढ़ पीड़ितों की सहायता के लिए दान करें. मौलवी साहब द्वारा ये अपील करने पर सोशल मीडिया में उनकी जमकर तारीफ हो रही है.

जानेमाने मुस्लिम धर्मगुरू मौलाना खालिद रशीद फरंगी महली ने अपने फेसबुक पेज पर लिखा है, 'एक महत्वपूर्ण अपील: अपने ईद-उल-अजहा बजट का कम से कम 10 प्रतिशत केरल बाढ़ राहत कोष में जमा कीजिए. ईद-उल-अजहा का सच्चा पैगाम ये है कि पशु की बलि देने के साथ ही हमें अपने भीतर भी त्याग की भावना विकसित करनी चाहिए ताकि जब भी मानवता को मदद की जरूरत हो, हम सभी आगे आएं और मानवमात्र की मदद करें. कुर्बानी का सच्चा संदेश यही है.'

राष्ट्र के लिए कुर्बानी 
इस्लामिक सेंटर ऑफ इंडिया द्वारा एक प्रेस रिलीज में उन्होंने कहा, 'जब भी राष्ट्र व देश को जिस प्रकार की कुर्बानी की जरूरत हो, तो वह कुर्बानी पेश करने के लिए तैयार रहे.' उन्होंने कहा कि केरल में बहुत बड़े पैमाने पर लोग बाढ़ से पीड़ित हैं और लाखों की संख्या में लोग बेघर हो चुके हैं और खाना पानी को तरस रहे हैं.

मौलाना ने कहा कि इसलिए मुसलमान अपने पैसे की कुर्बानी पेश करते हुए बकरीद के बजट का कम से कम दस प्रतिशत बाढ़ पीड़ितों की मदद के लिए केरल भेजें, ताकि वहां लोगों को राहत पहुंचाई जा सके. केरल में बाढ़ से भारी तबाही हुई है और हालात अभी भी दर्दनाक बने हुए हैं. मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक केरल में अभी तक बाढ़ से करीब 370 लोगों की मौत हो चुकी है और सात लाख से अधिक बेघर हुए हैं.