सीएम केजरीवाल ने किशनगढ़ में किया 18 लाख क्षमता के भूमिगत जलाशय का उद्धाटन, पानी की समस्या से मिलेगा छुटकारा

सीएम केजरीवाल ने दिल्ली के किशनगढ़ में 18 लाख क्षमता के भूमिगत जलाशय का उद्धाटन किया. इसकी वजह से मेहरौली और किशनगढ़ इलाके के लोगों को पीने के पानी की समस्या नहीं होगी. 

सीएम केजरीवाल ने किशनगढ़ में किया 18 लाख क्षमता के भूमिगत जलाशय का उद्धाटन, पानी की समस्या से मिलेगा छुटकारा
पानी की समस्या से मिलेगी राहत

नई दिल्ली: सीएम केजरीवाल ने दिल्ली के किशनगढ़ में 18 लाख क्षमता के भूमिगत जलाशय का उद्धाटन किया. इसकी वजह से मेहरौली और किशनगढ़ इलाके के लोगों को पीने के पानी की समस्या नहीं होगी. इस मौके पर सीएम केजरीवाल ने कहा, 'मैंने पिछले पांच साल में पाइप लाइन बिछाकर दिल्ली में घर-घर पानी पहुंचा दिया है. अगले पांच साल की भी प्लानिंग हो गई है. अगले पांच साल में पूरी दिल्ली में 24 घंटे पानी दूंगा. साथही पानी इतना साफ होगा कि टोंटी से पी सकेंगे.' 

सीएम ने कहा, 'दिल्ली में 70 साल में सिर्फ 58 प्रतिशत घरों तक पानी पहुंचा था, हमने 93 प्रतिशत घरों तक महज पांच साल में पानी पहुंचा दिया. यह बात दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने किशनगढ़ में नव निर्मित 18 लाख लीटर क्षमता के भूमिगत जलाशय के उद्धाटन के दौरान कही.' सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि अब इस इलाके में कुल 24 लाख क्षमता का जलाशय हो गया है. अभी इस इलाके में सिर्फ 6 लाख क्षमता का एक टैंक था, जिससे सभी इलाकों में पानी नहीं पहुंच पा रहा था. कई इलाकों में चार से पांच दिन में पानी पहुंचता था. इस जलाशय के चालू हो जाने के बाद अब आस पास के ज्यादातर इलाकों में पीने का पानी पहुंच सकेगा. 

अभी इस इलाके में दो और जलाशयों का निर्माण करना शेष है. दोनों पर भी करीब 80 प्रतिशत काम पूरा हो गया है. दिल्ली जल बोर्ड के अधिकारियों ने भरोसा दिया है कि दोनों पर अगले छह से सात महीने में काम पूरा कर लिया जाएगा. इसके बाद मेहरौली व किशनगढ़ इलाके के लोगों को पीने के पानी की समस्या नहीं होगी.

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि आज इस क्षेत्र में पानी की समस्या दूर करने के लिए 18 लीटर क्षमता का यूजीआर शुरू किया जा रहा है. इससे आसपास के कई इलाकों में पानी की समस्या का समाधान होगा. इस यूजीआर से किशनगढ़ और मेहरौली क्षेत्र के लोगों को पानी मिलेगा. मुख्यमंत्री ने कहा कि पांच साल पहले जब हमारी सरकार बनी थी. आप को जानकर आश्चर्य होगा कि दिल्ली में उस दौरान सिर्फ 58 प्रतिशत लोगों के घरों में टोंटी से पानी आता था. बाकी के करीब 40 प्रतिशत दिल्ली में टैंकरों से पानी जाया करता था. विरोधी दलों की सरकारें देश की राजधानी दिल्ली में 70 साल में पानी नहीं दे सके. ऐसा नहीं था कि वे दे नहीं सकते थे. हमने पिछले पांच साल में दिल्ली में युद्ध स्तर पर पाइप लाइन बिछाई है, यूजीआर और टैंक बनाए हैं. आज दिल्ली के 93 प्रतिशत घरों में टोंटी से पानी मिल रहा है.

अगले एक साल में हर घर तक पहुंचेगा टोंटी का पानी

सीएम ने कहा कि अब सिर्फ 7 प्रतिशत घरों में अभी टोंटी से पानी नहीं आ रहा है. वहां पर भी काम चल रहा है. अगले एक साल में 100 प्रतिशत घरों में टोंटी से पानी आ जाएगा. अगर हमारी सरकार पांच साल में 35 प्रतिशत दिल्ली में पानी पहुंचा सकती हैं, तो इन्होंने क्यों नहीं किया. पता किया तो जानकारी मिली कि इन्हें टैंकरों से पैसे मिला करते थे. 

हर टैंकर पर पार्टी वालों को पैसा मिला करता था. अगर वे टैंकर खत्म कर देते और टोंटी से पानी आता और पैसे जल बोर्ड के पास आते. टैंकर माफियाओं का गोरखधंधा चल रहा था. हमने यह गोरखधंधा बंद किया. पांच साल पहले आप लोगों ने एक ईमानदार सरकार बनाई थी. यह उसी का परिणाम है. इसमें केजरीवाल ने कुछ नहीं किया है. यह सब आप लोगों की बदौलत हो सका है. सीएम ने कहा कि मैं भी बेईमान होता तो टैंकरों से पैसे बांध लेता. मुझे एक विधायक ने बताया कि उसके इलाके में 500 टैंकर आते थे. उस इलाके के विधायक की महीने में टैंकर से 12 लाख रुपये की कमाई थी. वह 15 साल से विधायक था. उसने कितने करो़ड़ रुपये बना लिए होंगे.

पानी पिलाना पुण्य का काम

मुख्यमंत्री ने कहा कि हिन्दू धर्म में पानी पिलाना सबसे पुण्य का काम होता है. मैंने घर-घर पानी पहुंचा कर यह पुण्य कमा लिया. मेरा पहला लक्ष्य था कि जितने भी पैसे खर्च करने पड़े घर-घर तक पाइप लाइन पहुंचाना है. कई इलाकों में कई-कई दिनों में पानी आता है. कई घरों में चार-चार दिनों में पानी आता था. अब हमारा दूसरा लक्ष्य है कि अगले पांच साल में आपके घर में 24 घंटे पानी दे दूंगा.

सीएम ने कहा कि यह प्लानिंग पांच साल की है. अगले पांच साल में आपके घर में चार दिन में पानी नहीं आएगा, बल्कि 24 घंटे पानी आएगा. आपके टोंटी से इतना साफ पानी आएगा कि हाथ लगाकर पी लेंगे. आपको फिल्टर लगाने की जरूरत नहीं पड़ेगी.

दिल्ली में बड़े पैमाने पर अंडर ग्राउंट वाटर रीचार्ज

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली में पानी की कमी है. इसलिए हम आसपास के राज्यों से भी पानी लाने की कोशिश कर रहे हैं. बारिश के दिनों में जमीन अंदर भी सरकार पानी को स्टोर करेगी. अंडर ग्राउंट वाटर रिचार्ज करेंगे. इस तरह के बहुत बड़े-बड़े प्लान बनाए गए हैं. आपसे मेरा यह वादा है कि आपकी टोंटी में अगले पांच साल में हम 24 घंटे पानी दे देंगे.

5 साल में यमुना की होगी सफाई 

दिल्ली से होकर यमुना गुजरती है. यमुना बहुत गंदी है. उसमें सारा सीवर और इंडस्ट्री का वेस्ट जाता है. हमने उसकी भी प्लानिंग की है. अगले पांच साल के अंदर आपको ले जाकर यमुना में डुबकी लगवा दूंगा. दिल्ली वासियों को तीर्थ यात्रा सरकार करा रही है. श्रवण कुमार ने अपने मां-बाप को तीर्थ यात्रा कराई थी. तीर्थ यात्रा करने का भी पुण्य है और तीर्थ यात्रा कराने का भी पुण्य है.

सीएम ने कहा कि हमने अजमेर सरीफ, रामेश्वरम, शिरडी, पुरी, मथुरा-वृंदावन समेत 12 स्थानों की लिस्ट बनाई है. वहां कोई भी बुजुर्ग एक अटेंडेंट के साथ जा सकता है. अटेंडेंड का खर्च भी दिल्ली सरकार ही देती है. दिल्ली सरकार सभी तीर्थ यात्रियों को एसी ट्रेन से लेकर आती है और एसी होटल में रुकवाती है.

मुनाफे में चलाई सरकार

मुख्यमंत्री ने कहा कि अभी हमने बिजली फ्री की है. सभी की बिजली का बिल जीरो आ रहा है. विरोधी दलों ने बिजली फ्री करने का बहुत विरोध किया. आरोप लगाया कि केजरीवाल पैसे लुटा रहा है. केजरीवाल रोज कुछ न कुछ फ्री कर दे रहा है. मुख्यमंत्री ने कहा कि मैं खुद पैसे नहीं खाता. मैं भ्रष्टाचार नहीं करता. मैं अपने घर पैसे नहीं लेकर जाता हूं.

सीएम ने कहा कि हमने शिक्षा, अस्पतालों में इलाज और महिलाओं के लिए बस भी फ्री कर दी है. दिल्ली सरकार ने पिछले पांच साल में किसी का टैक्स नहीं बढ़ाया है. अभी सीएजी की रिपोर्ट आई है. सीएजी केंद्र सरकार की संस्था है. सीएजी ने कॉमन वेल्थ घोटाले का खुलासा किया था. सीएजी से सारी सरकारें डरती है.

सीएम ने कहा कि केंद्र सरकार ने दिल्ली सरकार के पास सीएजी को ऑडिट करने के लिए भेजा है. सीएजी ने दिल्ली सरकार के पांच साल के कामकाज का ऑडिट किया. सीएजी ने हमारे पांच साल के बही-खाते देखने के बाद बोला कि देश में अकेली केजरीवाल सरकार है, जो मुनाफे में चल रही है. बाकी सभी सरकारें घाटे में चल रही हैं. मैंने टैक्स नहीं बढ़ाया और सरकार मुनाफे में चलाई. सारी चीजें फ्री कर दीं. नाली बनवा रहा हूं, सड़कें बनवा रहा हूं और 24 घंटे बिजली कर दी. तो बीजेपी व कांग्रेस वालों को क्या तकलीफ है. विरोधियों ने बहुत अड़चने लगाईं. हम इन अड़चनों से लड़ लड़ कर सब फ्री कर दिया.

'मैंने हवाई जहाज नहीं खरीदा'

अरविंद केजरीवाल ने कहा कि अभी गुजरात के मुख्यमंत्री ने अपने इस्तेमाल के लिए हवाई जहाज खरीदा है. 190 करोड़ रुपए का हवाई जहाज आया है. दिल्ली में सारी महिलाओं का सफर फ्री करने में 140 करोड़ खर्च आया. आपके केजरीवाल ने अपने लिए हवाई जहाज नहीं खरीदा. मैं भी खरीद लेता, लेकिन मैंने अपनी मां-बहनों का उस पैसे से सारा किराया माफ कर दिया. हमने फिजूलखर्ची रोकी. भ्रष्टाचार खत्म किया. उससे इतना पैसा बचा कि उसी से हम जनता के लिए सारी सुविधाएं कर रहे हैं.

केजरीवाल ने कहा कि आप लोगों ने पांच पहले मुझ पर भरोसा जताया था. पांच साल पहले मुझे कोई नहीं जानता था. आप लोगों ने इतना बड़ा बना दिया. आप लोगों ने इतनी बड़ी कुर्सी पर बैठा दिया. आप लोगों ने इतनी बड़ी जिम्मेदारी दे दी. अब यह जो दिल्ली के विकास की रेल 100 की स्पीड में चल रही है. इसको रुकने मत देना. आने वाले चुनाव में ऐसा धक्का मारना कि 200 की स्पीड में चल पड़े. पिछली बार आपने 67 सीटें दी थी. तीन की कमी रह गई थी. इस बार वह कमी भी पूरी कर देना. 

इससे पहले, जलबोर्ड के अधिकारियों ने बताया कि इस क्षेत्र को पब्लिक प्राइवेट पार्टनरशिप में कर दिया है. आने वाले समय में 24 घंटे पानी उपलब्ध कराया जा सकेगा. यह प्रथम चरण में भूमिगत जलाशय चालू हुआ है. अब यह 24 लाख क्षमता का हो गया है. अभी 31 किलोमीटर की लाइन बिछ रही है. इसको बनाने में करीब 16 करोड़ रुपये खर्च आया है. इससे करीब 7 हजार की आबादी को फायदा पहुंचेगा.

केजरीवाल ने कहा कि अब इस इलाके में फिल्टर वाटर की सप्लाई हो सकेगी. इसके अलावा अभी इसमें और भी प्रोजेक्ट चल रहे हैं. इस प्रोजेक्ट में 13 लाख क्षमता का एक यूजीआर बाबा देव में बन रहा है. आने वाली गर्मियों तक वह भी चालू हो जाएगा. एक अन्य यूजीआर बनाया जा रहा है, जो लाल टंकी पर है. उससे भी इस क्षेत्र में पानी की वृद्धि होगी. बचे कार्यों पर 50 करोड़ रुपये की लागत आनी है.

इस दौरान महरौली विधायक नरेश यादव ने कहा कि मेहरौली क्षेत्र में 80 से 90 प्रतिशत तक पानी की समस्या दूर किया है. मेहरौली एक जटिल क्षेत्र है. यहां पर बहुत छोटी-छोटी तंग गलियां हैं. तंग रास्ते हैं. वहां पर काम करने में समस्या आती है. वहां पर कोई लाइन डालते हैं, तो बड़े बड़े पत्थर निकलते हैं. हमने लगातार इस पर काम किया है. इस यूजीआर से वार्ड दो, तीन को फायदा होगा. विधायक ने पूरे क्षेत्र को कवर करने का अनुरोध किया है. अगले कुछ महीने में शेष काम पूरा हो जाएगा. इस क्षेत्र में नई लाइन से पानी का कनेक्शन देने की प्रक्रिया भी शुरू कर दी गई है. बचे दो प्रोजेक्ट का भी छह से सात महीने काम पूरा हो जाएगा.