महाराष्ट्र का मुद्दा: सड़क से संसद तक बवाल, हंगामे के चलते लोकसभा की कार्यवाही स्थगित

महाराष्ट्र के मुद्दे पर कांग्रेस ने सड़क, संसद से लेकर सुप्रीम कोर्ट तक मोर्चा खोल दिया है.

महाराष्ट्र का मुद्दा: सड़क से संसद तक बवाल, हंगामे के चलते लोकसभा की कार्यवाही स्थगित

नई दिल्ली: महाराष्ट्र में चल से सियासी घमासान को लेकर कांग्रेस ने सड़क, संसद से लेकर सुप्रीम कोर्ट तक मोर्चा खोल दिया है. पार्टी की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी की अगुवाई में विपक्षी सांसदों ने आज संसद भवन परिसर में महात्मा गांधी की प्रतिमा के सामने विरोध-प्रदर्शन किया. वहीं सदन के अंदर विपक्षी सांसदों ने केंद्र सरकार पर लोकतंत्र की हत्या करने का आरोप लगाया. विपक्षी नेताओं द्वारा नारेबाजी जारी रखने के बाद लोकसभा दोपहर तक के लिए स्थगित कर दी गई.

दरअसल, लोकसभा में कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी और कांग्रेस के मुख्य सचेतक के. सुरेश ने महाराष्ट्र मुद्दे पर सदन में स्थगन प्रस्ताव दिया है. इसके चलते आज सदन में आज काफी हंगामा हो रहा है.सदन में प्रदर्शन के दौरान विपक्षी सदस्यों ने 'संविधान की हत्या बंद करो..बंद करो' जैसे नारे लगाए गए. 

लोकसभा में कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने कहा, ''मैं सदन में एक प्रश्न पूछना चाहता था, लेकिन अभी इस प्रश्न को पूछने का कोई मतलब नहीं है क्योंकि महाराष्ट्र में लोकतंत्र की हत्या कर दी गई है.''

इसके जवाब में बीजेपी सांसद और केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा कि कांग्रेस, शिवसेना और एनसीपी जनतंत्र को जुगाड़तंत्र बनाने की कोशिश कर रही है.

सदन के अंदर कांग्रेस के दो सांसदों टी.एन. प्रथपन और हिबी ईडन ने एक बड़ा बैनर लहराया, और अन्य सांसदों ने भी मोदी सरकार के खिलाफ तख्तियां लहराई और नारेबाजी की. सांसदों ने कहा कि "महाराष्ट्र में लोकतंत्र की हत्या की गई है."

लोकसभा अध्यक्ष ओम बिड़ला ने उस समय कांग्रेस के दो सदस्यों के नाम लिए, जब उन्होंने बैनर हटाने के उनके अनुरोध को अनसुना कर दिया.

दोनों सांसदों ने संसद अध्यक्ष के अनुरोध को मामने से इंकार कर दिया, तब बिड़ला ने उन्हें बाहर करने के लिए मार्शल्स को आदेश दिए.

संसद में यह विरोध प्रदर्शन ऐसे समय में हुआ है, जब सुप्रीम कोर्ट में महाराष्ट्र के मामले पर ही सुनवाई चल रही है.

उल्लेखनीय है कि राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने अचानक बदले घटनाक्रम के तहत शनिवार सुबह देवेंद्र फडणवीस को मुख्यमंत्री के रूप में और राकांपा के अजित पवार को उपमुख्यमंत्री के रूप में शपथ दिलाई थी.

 

इसके अलावा राज्यसभा सांसद बिनॉय विश्वम ने महाराष्ट्र सरकार गठन को लेकर नियम 267 के तहत राज्यसभा में सस्पेंशन ऑफ बिजनेस नोटिस दिया है. महाराष्ट्र के मुद्दे पर विपक्ष के सांसदों ने उच्च सदन में जमकर नारेबाजी की. इसके चलते राज्यसभा को दोपहर 2 बजे तक के लिए स्थगित कर दिया गया.

उधर, कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी ने ट्वीट के जरिए बीजेपी पर बड़ा हमला बोला है. प्रियंका ने लिखा, ''टीवी दिखा रहा है कि भाजपा महाराष्ट्र में संस्थाओं, संविधान को ठेंगा दिखाते हुए कर्नाटक का खेल फिर से दोहराना चाह रही है.

कांग्रेस महासचिव ने ट्वीट में लिखा, ''महाराष्ट्र में 12000 किसानों ने आत्महत्या कर ली. उनके लिए भाजपा सरकार की जेब से तो मदद नहीं निकली. क्या हम जनादेश के खुले अपहरण के दौर में पहुंच चुके हैं?''