कांग्रेस अध्‍यक्ष का पद संभालने के लिए राहुल गांधी से की गई गुहार, मिला ये जवाब
X

कांग्रेस अध्‍यक्ष का पद संभालने के लिए राहुल गांधी से की गई गुहार, मिला ये जवाब

CWC Meeting 16 October: कांग्रेस कार्य समिति की बैठक खत्म होने के बाद आयोजित प्रेस ब्रीफिंग में पार्टी नेता के सी वेणुगोपाल ने कहा, 'मीटिंग में कई अहम मुद्दों पर चर्चा हुई. बैठक के दौरान तीन प्रस्ताव भी पास किए गए हैं.'

कांग्रेस अध्‍यक्ष का पद संभालने के लिए राहुल गांधी से की गई गुहार, मिला ये जवाब

नई दिल्ली: कांग्रेस कार्यसमिति (CWC) की बैठक में पार्टी के अध्यक्ष पद पर अनौपचारिक विचार विमर्श हुआ. इस बैठक में मौजूद वरिष्ठ नेताओं की राय थी कि राहुल गांधी (Rahul Gandhi) को अध्यक्ष पद संभालना चाहिए. इस प्रस्ताव के बाद राहुल गांधी ने कहा है कि वो इस पर विचार करेंगे. .

के सी वेणुगोपाल ने दी जानकारी

कार्य समिति की बैठक खत्म होने के बाद आयोजित प्रेस ब्रीफिंग में के सी वेणुगोपाल ने कहा, '4 घंटे तक चली बैठक में पार्टी को मजबूत करने, पार्टी के नए अध्यक्ष, विधानसभा चुनाव समेत कई मुद्दों पर चर्चा हुई. बैठक के दौरान तीन प्रस्ताव भी पास किए गए हैं. CWC की बैठक में कई महत्वपूर्ण एजेंडे थे. इसी दौरान एक राजनीतिक प्रस्ताव समेत महंगाई और किसानों पर भी प्रस्ताव पास हुआ.'

सितंबर 2022 में नया अध्यक्ष?

वेणुगोपाल ने कहा कि पार्टी 1 नवंबर से अपना सदस्यता अभियान शुरू करेगी जो 31 मार्च, 2022 तक चलेगा. इसी तरह कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष, उपाध्यक्ष, कोषाध्यक्ष, पीसीसी एक्जीक्यूटिव और एआईसीसीसी सदस्य पद के चुनाव के लिए प्रकिया अगले साल 21 जुलाई से शुरू होकर अगस्त 2022 तक पूरी हो जाएगी. 

ये भी पढ़ें- कांग्रेस के लिए काम करने पर हुई IT की रेड, पॉलिटिकल मैनेजमेंट फर्म 'डिजाइनबॉक्स' का दावा

'G-23 नेताओं को फटकार'

शनिवार को अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी की अध्यक्षता में कांग्रेस कार्यसमिति की बैठक लंबे अंतराल के बाद हुई. कार्यसमिति बैठक को संबोधित करते हुए सोनिया गांधी ने पार्टी के स्थायी अध्यक्ष की मांग कर रहे जी-23 नेताओं को फटकार लगाई उन्होंने कहा, 'फिलहाल मैं ही पार्टी की स्थायी अध्यक्ष हूं. किसी को भी मीडिया के माध्यम से मुझ तक बात पहुंचाने की जरूरत नहीं है. बेहतर होगा कि खुद मझसे बात करें.' अंतरिम कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने बैठक में नेताओं को संदेश दिया कि आपसी मनमुटाव को दूर करेंगे तभी आगामी विधानसभा चुनाव में हम बेहतर परिणाम दे सकेंगे.

 

Trending news