close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

बीजेपी से मुकाबले के लिए कांग्रेस अपने नेताओं को देगी राष्‍ट्रवाद की ट्रेनिंग

ट्रेनिंग के दौरान कांग्रेस के नेताओं के आज़ादी के आंदोलन में योगदान और इंदिरा गांधी के दौर में देश का मान बढ़ाने के लिए पाकिस्तान का बंटवारा करने से लेकर तमाम बातों का जिक्र किया जाएगा.

बीजेपी से मुकाबले के लिए कांग्रेस अपने नेताओं को देगी राष्‍ट्रवाद की ट्रेनिंग

नई दिल्‍ली: देशभर में कांग्रेस पार्टी (congress) अपने कार्यकर्ताओं को बीजेपी के राष्ट्रवाद का मुकाबला करने के लिए ट्रेनिंग देगी. इसके लिए कांग्रेस पार्टी राष्ट्रीय स्तर, राज्य स्तर, जिला स्तर और ब्लॉक स्तर तक के कार्यकर्ताओं को ट्रेनिंग देगी. पिछले महीने दिल्ली में कांग्रेस के सभी प्रदेश अध्यक्षों और कांग्रेस विधायक दल के नेताओं के साथ हुई बैठक में ही ये रणनीति बनाई गई. ट्रेनिंग के दौरान कांग्रेस के नेताओं के आज़ादी के आंदोलन में योगदान और इंदिरा गांधी के दौर में देश का मान बढ़ाने के लिए पाकिस्तान का बंटवारा करने से लेकर तमाम बातों का जिक्र किया जाएगा.

कांग्रेस शासित राज्‍य पेश करेंगे बेहतर नजीर
इससे पहले कांग्रेस की स्थिति को दुरुस्‍त करने के लिए अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी के घर पर 14 सितंबर को हुई बैठक में बैठक में कांग्रेस शासित राज्यों को एक बेहतर नजीर पेश करने को कहा गया था. बैठक में कहा गया कि जितने भी कांग्रेस शासित राज्य हैं, अगर वो अलग नज़ीर पेश करेंगे तो उसका फ़ायदा देश में हर जगह कांग्रेस राज्य को होगा. साथ ही सोनिया गांधी ने सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों से कहा कि अपने अपने राज्य की आर्थिक स्थिति पर चर्चा करके एक रोडमैप तैयार करें.

LIVE TV

उस बैठक में मनमोहन सिंह को ये अधिकृत किया गया कि वह तमाम मुख्यमंत्रियों से बात करके वहां की आर्थिक स्थिति से निपटने के लिए किया क्या उपाय हो सकते हैं, उन्हें बताएं. सोनिया गांधी ने न्याय स्कीम योजना जो लोकसभा चुनाव से पहले कांग्रेस का एक बड़ा हथियार था, उसको कांग्रेस शासित राज्यों में कैसे लागू कराया जाए, कैसे उसको ज़मीनी स्तर पर लाया जा सके और कैसे उसे लागू कराया जा सके, इसके लिए एक रोडमैप तैयार करने को कहा था.