UP में कम हो रहा Corona संक्रमण, 50 से ज्यादा एक्टिव केस अब सिर्फ 4 जिलों में

उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस (Coronavirus) की रफ्तार धीमी पड़ती जा रही है. राज्य में कोरोना के एक्टिव केस घटकर 798 रह गए हैं. वहीं 50 से ज्यादा एक्टिव केस अब सिर्फ 4 जिलों में ही हैं.  

UP में कम हो रहा Corona संक्रमण, 50 से ज्यादा एक्टिव केस अब सिर्फ 4 जिलों में
फाइल फोटो.

लखनऊ: यूपी में कोरोना संक्रमण (Coronavirus) काफी हद तक काबू होने लगा है. प्रदेश के 11 जिले कोरोना वायरस संक्रमण से मुक्त हो चुके हैं. प्रदेश में एक्टिव केस भी अब हजार के नीचे ही चले गए हैं. प्रदेश में अब महज 798 एक्टिव केस ही दर्ज किए गए हैं. इस बीच उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने महामारी की संभावित तीसरी लहर (Third Wave) को देखते हुए राज्य को अलर्ट मोड पर रखा है. 

50 से ज्यादा एक्टिव केस अब सिर्फ 4 जिलों में

उत्तर प्रदेश में कोरोना के 50 से ज्यादा एक्टिव केस अब सिर्फ 4 जिलों में ही हैं. इन जिलों में- कुशीनगर में 90, मैनपुरी में 71, प्रयागराज में 67, लखनऊ में 55 कोरोना एक्टिव केस हैं. यूपी में कोरोना के एक्टिव केस घटकर 798 हो गए हैं सोमवार को 857 एक्टिव केस दर्ज किए गए थे. यूपी में बीते 24 घंटे में कोरोना के 36 नए मामले आए हैं. 73 कोरोना मरीज ठीक होकर डिस्चार्ज किए गए हैं जबकि बीते 24 घंटे में 4 की मौत हो गई.

10,000 से ज्यादा PICU स्थापित

यूपी सरकार का दावा है, सरकार राज्य भर में बच्चों के लिए सभी स्वास्थ्य सुविधाओं का विस्तार करने और हर मेडिकल कॉलेज और जिला अस्पताल में Pediatric ICU और नवजात आईसीयू सहित फुलप्रूफ व्यवस्था करने में कोई कसर नहीं छोड़ रही है. राज्य में 10,000 से अधिक PICU स्थापित किए गए हैं. इस आशंका को ध्यान में रखते हुए कि तीसरी लहर बच्चों को अधिक प्रभावित करेगी, उत्तर प्रदेश के मेडिकल कॉलेजों में PICU को बढ़ाकर 6,522 कर दिया गया है.

'बच्चों के इलाज की कोई कमी नहीं हो'

इसके अलावा, अन्य सरकारी अस्पतालों में 3,000 से ज्यादा पीआईसीयू और आइसोलेशन वार्ड तैयार किए गए हैं. सरकार के प्रवक्ता ने बताया कि मुख्यमंत्री ने स्वास्थ्य विभाग को यह सुनिश्चित करने का निर्देश दिया है कि किसी भी स्थिति में बच्चों के इलाज के लिए बेड की कमी न हो. उन्होंने स्वास्थ्य अधिकारियों से यह भी सुनिश्चित करने को कहा है कि मेडिकल कॉलेजों और स्वास्थ्य विभाग के अस्पतालों में चिकित्सा उपकरणों की कोई कमी न हो. बीआईपीएपी मशीन, पीआईसीयू और मोबाइल एक्स-रे मशीन सहित सभी आवश्यक उपकरणों की पर्याप्त उपलब्धता है.

यह भी पढ़ें: यहां शादी में दूल्‍हे को लाना पड़ता है दुल्‍हन का इनर वियर, लेकिन यही चक्‍कर बना मुसीबत

सरकार की लोगों से अपील

संभावित तीसरी लहर को खत्म करने के लिए राज्य सरकार ने लोगों से सतर्क रहने और जल्द से जल्द टीकाकरण कराने और एसएमएस के मंत्र को सख्ती से अपनाने की अपील की है, जिसमें सोशल डिस्टेंसिंग, मास्क पहनना, सैनिटाइजर का उपयोग करना शामिल है.

(IANS के इनपुट के साथ)

LIVE TV

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.