कोरोना: देश में संक्रमण के मामले 1.4 लाख के पार, एक मई की तुलना में चार गुना हुए केस

देश में सोमवार को लगातार चौथे दिन, एक दिन में कोविड-19 के सर्वाधिक मामले सामने आए और करीब 7,000 नए मामले सामने के बाद देश में संक्रमण के कुल मामले 1.4 लाख के पार चले गए.

कोरोना: देश में संक्रमण के मामले 1.4 लाख के पार, एक मई की तुलना में चार गुना हुए केस

नई दिल्ली: देश में सोमवार को लगातार चौथे दिन, एक दिन में कोरोना वायरस (coronavirus) के संक्रमण के सबसे ज्यादा मामले सामने आए. करीब 7,000 नए मामले सामने के बाद देश में संक्रमण के कुल मामले 1.4 लाख के पार चले गए हैैं. एक मई के बाद से मामलों की संख्या चार गुना हो गई जिस दिन प्रवासी मजदूरों को उनके घरों तक पहुंचाने के लिए विशेष ट्रेनें शुरू की गई थीं. 

देश में कोविड-19 संक्रमण से मृतक संख्या 4,000 के आंकड़े को पार कर गई जिसमें एक मई की तुलना में तीन गुने से अधिक का इजाफा हुआ है. इस अवधि में इलाज करा रहे रोगियों की संख्या भी तीन गुनी से अधिक हो गई है. उस समय से सही हो चुके कोविड-19 रोगियों की संख्या भी छह गुने से अधिक बढ़कर करीब 60,000 पर पहुंच गई है. बुरी तरह प्रभावित महाराष्ट्र, गुजरात, तमिलनाडु और दिल्ली में लगातार संक्रमण के मामले सामने आ रहे हैं, वहीं बिहार, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, ओडिशा और झारखंड में भी रोगियों की संख्या दूसरे राज्यों से विशेष ट्रेनों से प्रवासियों की वापसी शुरू होने से पहले दर्ज संख्या से दस गुना अधिक तक हो गई है.

नगालैंड में कोविड-19 के पहले तीन मामले सामने आए
नगालैंड में सोमवार को कोविड-19 के पहले तीन मामले सामने आए जहां चेन्नई से विशेष ट्रेन से लौटे दो पुरुषों और एक महिला में कोरोना वायरस संक्रमण का पता चला है. भारत में कोरोना वायरस संक्रमण का पहला मामला जनवरी के आखिर में सामने आया था, लेकिन नगालैंड तब से संक्रमण से मुक्त रहा है. 

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि पिछले 24 घंटे में 6,977 नए मामले सामने के बाद देश में संक्रमण के कुल मामले 1,38,845 हो गए हैं जबकि मृतक संख्या 4,021 हो गई है. सोमवार सुबह आठ बजे तक पिछले 24 घंटे में 154 लोगों की मौत हुई. मंत्रालय ने बताया कि देश में 57,721 लोग अब तक स्वस्थ हुए हैं और एक मरीज विदेश चला गया है. न्यूज एजेंसी भाषा के मुताबिक, देश में कोरोना वायरस संक्रमण के कुल मामलों की संख्या 1,41,794 हो गई है तथा मृतक संख्या 4,078 पहुंच गई है.  अब तक 59,689 लोग इस संक्रमण से ठीक चुके हैं, वहीं 78,000 से अधिक रोगियों का अभी इलाज चल रहा है. 

स्वास्थ्य मंत्रालय ने एक मई को सुबह आठ बजे अपने अपडेट में देश में संक्रमित रोगियों की कुल संख्या करीब 35,000 बताई थी. उस दिन तक 1,150 लोगों की मृत्यु हो चुकी थी. उस तारीख में 8,900 लोग सही हो चुके थे और 25,000 से अधिक लोगों का इलाज चल रहा था. तब से अब तक संक्रमित रोगियों की संख्या चार गुना हो गई है. मौत के मामले तीन गुना से अधिक बढ़ गए हैं और इलाज करा रहे रोगियों की संख्या में भी लगभग इतना ही इजाफा हुआ है. हालांकि सही हो चुके रोगियों की संख्या उस स्तर की तुलना में छह गुना से अधिक बढ़ गई है. भारतीय रेलवे ने एक मई से ही प्रवासी श्रमिकों को उनके गंतव्यों तक पहुंचाने के लिए विशेष श्रमिक रेलगाड़ियां चलाना शुरू किया था. 

No description available.

महाराष्ट्र में मामले 52 हजार के पार
देश में सबसे बुरी तरह प्रभावित महाराष्ट्र में 2,436 नए मामले आए हैं ओर सोमवार को संक्रमण से वहां 60 लोगों की मौत हो गई. राज्य में संक्रमण के कुल मामले 52,667 तथा मौत के मामले 1,695 हो गए हैं. राज्य में कम से कम दो मंत्रियों के भी संक्रमित होने की खबर है. इसके अलावा, कम से कम 18 पुलिसकर्मियों की संक्रमण के कारण जान चली गई. दूसरा बुरी तरह प्रभावित राज्य गुजरात है जहां 405 नए मामले आने के साथ रोगियों की कुल संख्या 14,468 हो गई है, वहीं 30 और रोगियों की मृत्यु के बाद मरने वालों का आंकड़ा 888 पर पहुंच गया है. गुजरात से अब तक 12 लाख से अधिक प्रवासी बाहर के राज्यों में जा चुके हैं। इनमें से अधिकतर बिहार, ओडिशा और झारखंड गए हैं. 

No description available.

बिहार में 180 नए मामले सामने आए
बिहार में 180 नए मामले सामने आए हैं और रोगियों की संख्या 2,574 हो गई है. पिछले कुछ दिन में राज्य में बाहर से लौटे लोगों में से अधिक नए मामले सामने आए हैं. ओडिशा में सोमवार को 103 लोगों के कोरोना वायरस से संक्रमण की पुष्टि हुई जो राज्य में एक दिन में नए मरीजों की सबसे अधिक संख्या है. इसके साथ ही ओडिशा में कोरोना वायरस से कुल संक्रमितों की संख्या बढ़कर 1,438 हो गई है. 

अधिकारी ने बताया कि राज्य का गंजम जिला, जहां पर दूसरे प्रदेशों से सबसे अधिक प्रवासी आए हैं, कोविड-19 के मामले में ओडिशा का शीर्ष जिला बना हुआ है. यहां पर अबतक 353 लोगों के कोरोना वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि हुई है. वहीं 240 मामलों के साथ जाजपुर दूसरे स्थान पर है. तमिलनाडु में 805 नए मामले आने के राज्य में कुल संक्रमितों की संख्या बढ़कर 17,082 हो गई है. 

हरियाणा, पुडुचेरी, केरल, जम्मू्-कश्मीर, त्रिपुरा, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, मणिपुर, असम, हिमाचल प्रदेश, आंध्र प्रदेश, कनार्टक और राजस्थान में भी नए मामले सामने आए हैं. इस बीच, हिमाचल प्रदेश के कई इलाकों में लॉकडाउन की पाबंदियों को जून तक के लिए बढ़ा दिया गया है. 18 मई को लॉकडाउन के चौथे चरण में कई छूट दिए जाने के बाद से देश भर में कोरोना वायरस के मामलों में तेजी से बढ़ोतरी हुई है. देशभर में करीब एक-तिहाई मामले 18 मई के बाद सामने आए हैं. 

दिल्ली में संक्रमितों की संख्या 14 हजार के पार
राष्ट्रीय राजधानी में 635 नए मामले सामने आए हैं जिससे कुल संक्रमितों की संख्या 14,053 हो गई है. राष्ट्रीय राजधानी में अभी तक करीब 276 लोगों की मौत हो चुकी है. बहरहाल, मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि लॉकडाउन में छूट दिए जाने के बावजूद दिल्ली में कोविड-19 की स्थिति नियंत्रण में है. देशभर में 25 मार्च से लॉकडाउन चल रहा है. शुरू में इसे 21 दिनों के लिए लागू किया गया लेकिन उसके बाद इसे तीन बार बढ़ाया गया है और वर्तमान में चौथे चरण का लॉकडाउन 31 मई तक जारी रहेगा. 

ये भी देखें: