रोहतक जेल में ही सुनाई जाएगी राम रहीम को सजा, CBI जज को हवाई रास्‍ते से ले जाने के आदेश

अब सीबीआई जज हवाई रास्‍ते से रोहतक जेल जा सकते हैं. इस मामले में पंजाब और हरियाणा उच्च न्यायालय ने शनिवार को हरियाणा सरकार को ये निर्देश दिए हैं.

रोहतक जेल में ही सुनाई जाएगी राम रहीम को सजा, CBI जज को हवाई रास्‍ते से ले जाने के आदेश
पंचकूला की विशेष सीबीआई अदालत ने राम रहीम को रेप का दोषी करार दिया है.

चंडीगढ़ : बलात्‍कार मामले में डेरा प्रमुख गुरमीत राम रहीम को सजा सुनाने के लिए अब सीबीआई जज हवाई रास्‍ते से रोहतक जेल जा सकते हैं. इस मामले में पंजाब और हरियाणा उच्च न्यायालय ने शनिवार (26 अगस्त) को हरियाणा सरकार को ये निर्देश दिए हैं. बलात्कार मामले में डेरा सच्चा सौदा के प्रमुख गुरमीत राम रहीम को सोमवार (28 अगस्त) को सजा सुनाई जाएगी.  पंजाब और हरियाणा हाईकोर्ट ने हरियाणा की खट्टर सरकार से कहा कि वह राम रहीम को सजा सुनाने के लिए विशेष सीबीआई न्यायाधीश को हवाई मार्ग से रोहतक जिला जेल में ले जाने के लिए जरुरी इंतजाम करे. इस मामले में दोषी करार दिया गया राम रहीम इसी जेल में बंंद है. 

हाईकोर्ट ने राज्य सरकार से इन न्यायिक अधिकारी एवं उनके दो कर्मचारियों को हवाई मार्ग से सुरक्षित ले जाने के लिए जरुरी इंतजाम करने को कहा. विशेष सीबीआई न्यायाधीश जगदीप सिंह ने शुक्रवार 25 अगस्‍त को सिरसा स्थित डेरा सच्चा सौदा के प्रमुख राम रहीम को 15 साल से भी अधिक समय पहले महिला अनुयायियों से बलात्कार करने का दोषी ठहराया था. सजा 28 अगस्त को सुनाई जाएगी. पंचकुला में दोषी करार दिये जाने के बाद गुरमीत को रोहतक लाया गया था, क्योंकि उसके अनुयायी शहर में तथा हरियाणा एवं पंजाब के कई हिस्सों में हिंसा पर उतर आए. हिंसा में 36 लोग मारे गए और 250 से अधिक लोग घायल हुए.

यह भी पढ़ें : हाईकोर्ट की हरियाणा सरकार को फटकार, कहा- राजनीतिक फायदे के लिए शहर को जलने दिया

ईकोर्ट ने शनिवार (26 अगस्त) को रोहतक में सुनारिया में जिला जेल को सीबीआई बनाम गुरमीत राम रहीम सिंह के मामले में सजा पर सुनवाई और सजा सुनाने के लिए पंचकूला के अतिरिक्त जिला एवं सत्र न्यायाधीश की सीबीआई अदालत के स्थल के रुप में अधिसूचित की. हाईकोर्ट की अधिसूचना में कहा गया है, ‘उपरोक्त उद्देश्य के लिए सुनारिया में जिला रोहतक जेल में अदालत कक्ष आदि के उपयुक्त समायोजन की व्यवस्था की जाए, वकीलों और संबंधित पक्षों को अदालतकक्ष तक आसान पहुंच की भी व्यवस्था की जाए.’

डेरा प्रमुख को सजा देने को रोहतक जेल में होगी अदालती कार्रवाई 

पंजाब और हरियाणा उच्च न्यायालय ने शनिवार (26 अगस्त) को कहा कि दोषसिद्ध अपराधी डेरा सच्चा सौदा के प्रमुख गुरमीत राम रहीम सिंह को सजा सुनाने के लिए रोहतक के नजदीक सुनारिया जेल में सीबीआई की विशेष अदालत लगाई जाएगी. 2002 के दुष्कर्म और यौन उत्पीड़न मामले में सोमवार (28 अगस्त) को सजा सुनाई जाएगी. उच्च न्यायालय के रजिस्ट्रार द्वारा जारी अधिसूचना के मुताबिक अदालत के कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश के निर्देशों के अनुसार, "रोहतक के सुनारिया के जिला जेल में सीबीआई अदालत के अतिरिक्त जिला और सत्र न्यायाधीश, पंचकूला सजा की मात्रा सुनाने के उद्देश्य से सुनवाई करेंगे."

उच्च न्यायालय ने हरियाणा सरकार को निर्देश दिया है कि वह सीबीआई अदालत के न्यायाधीश जगदीप सिंह और उनके दो कर्मचारी सदस्यों की रोहतक के लिए सोमवार को हवाई यात्रा की व्यवस्था करे. हरियाणा पुलिस ने शनिवार को कहा था कि हिरासत में रखे गए धर्मगुरु को सजा की सुनवाई के लिए पंचकूला नहीं लाया जाएगा. यह कदम डेरा प्रमुख पर दुष्कर्म के दो मामलों में आरोप साबित होने के बाद डेरा समर्थकों द्वारा शुक्रवार (25 अगस्त) को की गई बड़े पैमाने पर हिंसा के बाद उठाया गया है.

राम रहीम को हरियाणा सरकार द्वारा शुक्रवार (25 अगस्त) शाम को हेलीकॉप्टर से रोहतक ले जाया गया. उसे रोहतक से 10 किलोमीटर दूर स्थित सुनारिया जेल में रखा गया है. हरियाणा के पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) बी. एस. संधू ने यहां शनिवार को मीडिया को बताया कि डेरा प्रमुख को सुरक्षा कारणों से पंचकूला अदालत में नहीं लाया जाएगा.