close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

INX मीडिया केस: CBI की चार्जशीट पर कोर्ट ने लिया संज्ञान, ये लोग बनाए गए आरोपी

CBI ने मामले में चार्जशीट में पी चिदंबरम समेत 14 लोगों को आरोपी बनाया है.

INX मीडिया केस: CBI की चार्जशीट पर कोर्ट ने लिया संज्ञान, ये लोग बनाए गए आरोपी
.(फाइल फोटो)

मुंबई: INX मीडिया मामले में CBI द्वारा दायर चार्जशीट पर राउज एवेन्यू की स्पेशल कोर्ट ने संज्ञान ले लिया है. सीबीआई ने 18 अक्टूबर को चार्जशीट दाखिल की थी. CBI ने मामले में चार्जशीट में पी चिदंबरम समेत 14 लोगों को आरोपी बनाया है, आरोपियों में पीटर मुखर्जी, कार्ति चिदंबरम, भास्कर, पी चिदंबरम, सिंधुश्री खुल्लर, अनूप पुजारी, प्रबोध सक्सेना, आर प्रसाद, INX मीडिया, ASCP और चेस मैनेजमेंट का नाम है. चार्जशीट में वित्त मंत्रालय के चार पूर्व अफसरों का भी नाम है. नीति आयोग की पूर्व सीईओ सिंधुश्री खुल्लर का नाम भी सीबीआई की चार्जशीट में है.

खुल्लर आईएनएक्स मीडिया के मंजूरी मिलने के समय डिपार्टमेंट ऑफ इकोनोमिक अफेयर्स में एडिशनल सेक्रेट्री के पद पर तैनात थी. CBI की चार्जशीट के मुताबिक आरोपियों पर  IPC की धारा 120 B, 420, 468 और 471 के तहत केस दर्ज किया गया है, और भ्रष्टाचार निरोधक कानून के तहत धारा 9, 13 (2) और 13 (1) D के चार्ज भी लगाए गए हैं.

फिलहाल चिदंबरम 24 अक्टूबर तक प्रवर्तन निदेशालय की हिरासत में है और उनसे पूछताछ हो रही है. ईडी हिरासत की अवधि खत्म होने के बाद उनको किया जाएगा. गौरतलब है कि ईडी की हिरासत में देते हुए कोर्ट ने कहा था कि जांच महत्वपूर्ण स्टेज पर है लिहाजा हिरासत देने इंकार नहीं किया जा सकता है.

साथ ही कोर्ट ने उनको घर के खाने की अनुमति भी दे दी थी. उनके परिवार वालों और वकीलों को हर रोज आधा घंटा मिलने की अनुमति भी दी थी. कोर्ट का कहना था कि हर 48 घंटे बाद उनका मेडिकल चेक अप भी कराया जाए. अगर अन्य आरोपियों की बात की जाए यानि चिदंबरम को छोड़कर तो कोर्ट ने अन्य सभी को 29 नवंबर को पेश होने के लिए समन भी जारी किया.

चिदंबरम की जमानत पर सुप्रीम कोर्ट में फैसला पहले से ही सुरक्षित है. दिल्ली हाईकोर्ट से जमानत न मिलने के बाद पी चिदंबरम ने सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया था. हालांकि सीबीआई ने सर्वोच्च अदालत से जमानत न देने की अपील की है.