Zee Rozgar Samachar

इस अस्पताल के कोरोना मरीजों को दिल्ली सरकार के अस्पतालों में किया जाएगा शिफ्ट

कोरोना वायरस महामारी (Coronavirus) के बीच दिल्ली के हिंदूराव अस्पताल (Hindu Rao Hospital) के डॉक्टरों ने सैलरी नहीं मिलने के कारण हड़ताल पर जाने को लेकर नोटिस दिया है. इसके बाद अस्पताल में भर्ती कोरोना वायरस के मरीजों को दिल्ली सरकार के अस्पतालों में शिफ्ट किया जाएगा.

इस अस्पताल के कोरोना मरीजों को दिल्ली सरकार के अस्पतालों में किया जाएगा शिफ्ट
दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने कहा कि वेतन भुगतान किया जाना चाहिए. (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: कोरोना वायरस महामारी (Coronavirus) के बीच दिल्ली के हिंदूराव अस्पताल (Hindu Rao Hospital) के डॉक्टरों ने सैलरी नहीं मिलने के कारण हड़ताल पर जाने को लेकर नोटिस दिया है. इसके बाद अस्पताल में भर्ती कोरोना वायरस के मरीजों को दिल्ली सरकार के अस्पतालों में शिफ्ट किया जाएगा. दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन (Satyendar Jain) ने शनिवार को यह जानकारी दी. इसके साथ ही उन्होंने दिल्ली नगर निगम पर निशाना साधते हुए कहा कि अगर एमसीडी से अस्पताल नहीं चल पा रहे हैं तो वह दिल्ली सरकार को सौंप दे.

सत्येंद्र जैन (Satyendar Jain) ने प्रदेश में प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, "दिल्ली के नगर निगम (MCD) द्वारा संचालित हिंदू राव अस्पताल के कोविड-19 मरीजों को राज्य सरकार (Delhi Government) के अस्पतालों में स्थानांतरित किया जाएगा, क्योंकि अस्पताल के डॉक्टरों और कर्मचारियों ने हड़ताल पर जाने का नोटिस दिया है."

उन्होंने आगे कहा, "अस्पताल के कर्मचारियों को उनके वेतन का भुगतान किया जाना चाहिए. अगर दिल्ली नगर निगम हिंदू राव और कस्तूरबा अस्पतालों को चलाने में सक्षम नहीं है, तो उन्हें राज्य सरकार को सौंप देना चाहिए."

डॉक्टरों ने दिया 48  घंटे का अल्टीमेटम

बता दें कि उत्तरी दिल्ली नगर निगम (NDMC) के हिंदू राव अस्पताल में पिछले कुछ समय से वेतन को लेकर प्रदर्शन चल रहा है और शुक्रवार को स्वास्थ्यकर्मियों ने प्रशासन को 48 घंटे का अल्टीमेटम दे दिया था. डॉक्टरों ने कहा कि अगर अगले 48 घंटे में उनकी सैलरी नहीं दी गई तो वह कोविड वार्ड से भी अपनी सेवाएं हटा लेंगे.

Video-

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.