COVID-19: जवानों की घर पर मौजूदगी सुनिश्चित करने के लिए CAPF ने उठाया ये बड़ा कदम...

भारत-तिब्बत सीमा पुलिस (आईटीबीपी) ने सबसे पहले इसकी शुरुआत की थी.

COVID-19: जवानों की घर पर मौजूदगी सुनिश्चित करने के लिए CAPF ने उठाया ये बड़ा कदम...

नई दिल्ली: केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बल (CAPF) ने सोमवार को एक आदेश जारी घर से काम करने वाले जवानों से रोजाना उनकी लाइव लोकेशन भेजने के लिए निर्देशित किया है. सरकार ने इसके लिए एक व्हाट्सएप ग्रुप बनाया है जिसमें सभी से लोकेशन शेयर करने के लिए कहा है. वहीं इसके लिए एक टीम की भी तैनाती की गई है जो जवानों की लाइव लोकेशन पर नज रखेगी. सेना में कोरोना के दो पॉजिटिव मामले सामने आने के बाद सरकार ने ये फैसला लिया है. 

सरकार ने अनुसार घर से काम कर रहे जवान और छुट्टी पर गए जवानों की घर में मौजूदगी सुनिश्चित करने के लिए ये तरीका अपनाया गया है ताकि कोविड-19 के प्रसार को रोका जा सके. सीमा की सुरक्षा में तैनात भारत-तिब्बत सीमा पुलिस (आईटीबीपी) ने पहल करते हुए कुछ दिन पहले ही सभी टीम प्रमुखों को जवानों की दिन में दो बार लाइच लोकेशन प्राप्त करने के निर्देश दिए थे. जिसके बाद रिपोर्ट को दिल्ली मुख्यालय के अनुपालन रिपोर्ट भेजने के आदेश दिए.

CAPF के एक शीर्ष कमांडर ने बताया कि इसका उद्देश्य कोविड-19 के प्रसार को रोकना है. सेनाकर्मी अपनी छुट्टियों का दुरुपयोग नहीं करें और अपने घरों में रहे, ये सुनिश्चित करने के लिएइसकी शुरुआत की गई है. उन्होंने बताया कि इससे सरकार द्वारा जारी लॉकडाउन को कड़ाई से लागू करने में मदद मिलेगी और बल की श्रमशक्ति का इस्तेमाल कोरोना वायरस से लड़ने में किया जा सकेगा.

उन्होंने बताया कि अभी तक उल्लंघन का कोई मामला सामने नहीं आया है, लेकिन इन बलों की खुफिया एवं निगरानी शाखाओं ने रिपोर्ट दी है कि बल के कर्मी आधिकारिक आईडी कार्ड, यूनिफॉर्म या सरकारी वाहनों का दुरुपयोग छुट्टी के दौरान अपने घर या परिवार के सदस्यों के यहां जाने में कर सकते हैं और इसे रोका जाना जरूरी है. 

ये भी पढ़ें:- 'रामायण', 'महाभारत' के बाद अब सुपरहीरो 'शक्तिमान' की बारी, जल्द आएगा सीक्वल