close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

दावणगेरे लोकसभा सीट: 2004 से बीजेपी का डंका, कांग्रेस के सामने वापसी की चुनौती

लोकसभा चुनाव 2019 (Lok Sabha elections 2019) के तीसरे चरण में 23 अप्रैल को कर्नाटक की दावणगेरे लोकसभा सीट पर शांतिपूर्ण मतदान हुआ. 

दावणगेरे लोकसभा सीट: 2004 से बीजेपी का डंका, कांग्रेस के सामने वापसी की चुनौती
.(प्रतीकात्मक तस्वीर)

नई दिल्ली: लोकसभा चुनाव 2019 (Lok Sabha elections 2019) के तीसरे चरण में 23 अप्रैल को कर्नाटक की दावणगेरे लोकसभा सीट पर शांतिपूर्ण मतदान हुआ. इस बार दावणगेरे लोकसभा सीट पर 72.57 % जबकि पूरे कर्नाटक में 68.15 फीसदी मतदान हुआ. दावणगेरे लोकसभा सीट से कांग्रेस की तरफ से एचबी मंजप्पा, बीजेपी की तरफ से जीएम सिद्धेश्वरा और बसपा की तरफ से सि‍द्धाप्पा बीएच सहित कई लोग चुनाव मैदान में है. पिछले लोकसभा चुनाव में बीजेपी के जीएम सिद्देश्वरा को इस सीट से जीत मिली थी. उन्होंने कांग्रेस के एस.एस. मल्लिकार्जुन को 17,602 वोटों से हराया था.

दावणगेरे लोकसभा सीट कुल आबादी 19.45 लाख है
दावणगेरे लोकसभा सीट कुल आबादी 19.45 लाख है जिसका बड़ा हिस्सा ग्रामीण इलाके से आता है. इस सीट के अंतर्गत करीब 15.22 लाख वोटर आते हैं, जिनमें 7.72 लाख पुरुष वोटर और 7.50 लाख महिला वोटर शामिल हैं.दावणगेरे लोकसभा सीट का उदय साल 1977 में हुआ था और यहां अब तक कुल 11 चुनाव हुए हैं जिनमें से 6 बार कांग्रेस को जीत मिली है.

इस सीट पर 5 बार बीजेपी ने जीत दर्ज की 
इस सीट पर 5 बार बीजेपी ने जीत दर्ज की है जिसमें साल 1999 के लोकसभा चुनाव से लगातार 4 बार की जीत भी शामिल है. इसके अलावा मौजूदा बीजेपी सांसद जी. एम. सिद्देश्वरा साल 2004 से लगातार दावनगेरे से लोकसभा चुनाव जीतते आ रहे हैं. इस लोकसभा सीट के अंतर्गत विधानसभा की 8 सीटें भी आती हैं.

आपको बता दें कि कर्नाटक में कुल 28 लोकसभा सीटें हैं जिनमें से 15 सीटें बीजेपी के पास हैं. इसके अलावा राज्य की 10 सीटों पर कांग्रेस और 2 सीटों पर जेडीएस का कब्जा है. कर्नाटक विधानसभा में कांग्रेस-जेडीएस गठबंधन की सरकार है.