दाऊद इब्राहिम की 'क्राइम' फैमिली: हसीना पारकर से लेकर इकबाल कास्कर तक रहे खौफ का दूसरा नाम

आइए दाऊद इब्राहिम के भाई इकबाल कास्कर, बहन हसीना पारकर सहित परिवार के उन पांच सदस्यों के बारे में जानते हैं, जिनका अपराध जगत दबदबा रहा.

दाऊद इब्राहिम की 'क्राइम' फैमिली: हसीना पारकर से लेकर इकबाल कास्कर तक रहे खौफ का दूसरा नाम
अंडरवर्ल्ड दाऊद इब्राहिम, बहन हसीना पारकर और भाई इकबाल कास्कर.

भारत की आर्थिक राजधानी मुंबई में आतंक फैलाने वाले अंडरवर्ल्ड दाऊद इब्राहिम (Dawood Ibrahim) का परिवार एक बार फिर से चर्चा में है. उसके भाई इकबाल कास्कर (Iqbal Kaskar) को महाराष्ट्र पुलिस ने जबरन वसूली के आरोप में गिरफ्तार किया है तो उसकी बहन हसीना पारकर एक फिल्म को लेकर सुर्खियों में हैं. पाकिस्तान में बैठकर भारत में अशांति फैलाने वाले दाऊद इब्राहिम की फैमिली मेंबर्स की लिस्ट पर नजर डालें तो कई ऐसे नाम हैं जो फिरौती, उगाही, हवाला कारोबार आदि धंधे में लिप्त हैं. इन अवैध धंधों को चलाने के लिए दाऊद के परिवार के लोग मर्डर जैसे संगीन वारदातों को भी अंजाम देते रहे हैं. आइए दाऊद इब्राहिम के परिवार के उन पांच सदस्यों के बारे में जानते हैं, जिनका अपराध जगत दबदबा रहा.

ये भी पढ़ें: बहन हसीना पारकर के घर में बिरयानी खा रहा था इकबाल कास्‍कर, पुलिस ने दबोचा

दाऊद का बहनोई इब्राहिम पारकर: मुंबई में बम धमाका करने के बाद दाऊद इब्राहिम दुबई भाग गया था. इसके बाद दाऊद ने मुंबई में बहनोई इब्राहिम पारकर धंधा संभालने का जिम्मा दे दिया था. कुछ दिन बाद ही दाऊद के बहनोई इब्राहिम पारकर की हत्या हो गई थी. दाऊद ने बहनोई की हत्या का बदला दुबई में बैठे-बैठे ही लिया था. इसके लिए उसने दो लोगों को जिम्मेदारी दी थी. रात के करीब 3 बजे डॉन के शूटर्स ने जे जे हॉस्पिटल जाकर इब्राहिम पारकर के हत्यारे शैलेश हलदनकर और विपिन सेरे पर ताबड़तोड़ गोलियां दागी. इसमें शैलेश हलदनकर और हॉस्पिटल में सुरक्षा के लिए तैनात दो पुलिस वालों की मौत हो गई थी. गैंगस्टर अरुण गवली गैंग का शूटर था शैलेश.

ये भी पढ़ें: 'दाऊद इब्राहिम का एक बेटा भारत में रहता है'

बहन हसीना पारकर: बहनोई इब्राहिम पारकर की हत्या के बाद दाऊद ने बहन हसीना पारकर को मुंबई के अपने सारे काले धंधे सौंप दिए. हसीना पारकर वसूली के अलावा मानव तस्करी के धंधे में भी शामिल रहीं. कुछ ही दिनों में उसने पूरे मुंबई में वर्चस्व कायम कर लिया था. 2014 में इसकी मौत हो गई थी. इन दिनों हसीना पारकर के ऊपर बन रही फिल्म सुर्खियों में है.

भाई अनीस इब्राहिम: दाऊद का भाई अनीस इब्राहिम भी उसके काले धंधे में साझेदार रहा. 1980 के दशक में जब दाऊद इब्राहिम अपराध जगत में सफलता की सीढ़ियां चढ़ रहा था तो अनीस इब्राहिम उसका साझेदार रहा. इस वक्त अनीस इब्राहिम भी पाकिस्तान में ही रहता है. पिछले साल वह मीडिया से बातचीत में कहा था कि दाऊद जिंदा है.

भाई इकबाल कास्कर: मुंबई में दाऊद की बहन हसीना पारकर की मौत के बाद उसके दूसरे भाई इकबाल कास्कर ने काले धंधे की विरासत संभाल ली है. यूं कहें कि मुंबई में 'डी' कंपनी का उत्तराधिकारी वही है. कास्कर पर बिल्डरों से फिरौती, शूटरों से हत्या करवाने जैसे गंभीर आरोप हैं. इकबाल अवैध धंधे संभालने के लिए हसीना पारकर के ही घर में रहता था.

बेटा मोइन: दाऊद इब्राहिम का एक मात्र बेटा है मोइन. खुफिया विभाग की रिपोर्ट में दावा किया जाता रहा है कि मोइन ज्यादातर दुबई में रहता है. दाऊद ने इसे सीधे तौर से अवैध धंधे में नहीं ढकेला है. मोइन पिता के अवैध पैसों से वैध धंधे करता है. हालांकि उसके ऊपर भी कई संगीन आरोप हैं.

अपराध जगत से दूर रहीं बीवी और बेटियां
दाऊद इब्राहिम ने पत्नी महजबीन ऊर्फ जुबीना जरीन, बेटी माहरुख, माहरीन और मारिया को अपराध जगत से हमेशा दूर रखा है. मारिया की मौत 1998 में हुई थी. हालांकि दामाद जुनैद और अयूब अमेरिका सहित दुनिया के कई देशों में दाऊद का कारोबार संभालते हैं. दाऊद की बहू सानिया भी अपराध जगज से दूर रहती हैं.