Mamta Banerjee ने बताई Nandigram से चुनाव लड़ने की वजह, जनता से BJP को 'अप्रैल फूल' बनाने की अपील

Mamata Banerjee in Nandigram: पश्चिम बंगाल (West Bengal) में जैसे जैसे चुनाव प्रचार जोर पकड़ रहा है. आरोप-प्रत्यारोप का दौर तेज होता जा रहा है. नंदीग्राम की जनसभा में ममता ने कहा, 'दिल्ली के गुंडे मुझे बाहरी बता रहे हैं. आखिर बंगाल की बेटी बाहरी कैसे हो सकती है.'

Mamta Banerjee ने बताई Nandigram से चुनाव लड़ने की वजह, जनता से BJP को 'अप्रैल फूल' बनाने की अपील
फोटो साभार (IANS)

कोलकाता: पश्चिम बंगाल (West Bengal) की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) बुधवार को नंदीग्राम (Nandigram) सीट से नामांकन पत्र दाखिल करेंगी. नामांकन से पहले अपने चुनावी क्षेत्र पहुंची ममता बनर्जी ने बीजेपी पर जमकर निशाना साधा. नंदीग्राम में टीएमसी (TMC) की रैली को संबोधित करते हुए ममता ने ये भी बताया कि आखिर उन्होंने इस सीट का चुनाव क्यों किया. मंगलवार की जनसभा में उन्होंने नंदीग्राम आंदोलन की याद भी दिलाई. ममता ने कहा कि यहां आकर कोई-कोई बंटवारा करने की कोशिश करेगा. ऐसे लोगों की बात मत सुनिएगा. मैं अपना नाम भूल सकती हूं, लेकिन नंदीग्राम नहीं.

नंदीग्राम से लड़ने की बताई वजह

ममता बनर्जी ने कहा, 'मैं चाहती तो भोवानीपुर से भी टिकट ले सकती थी. लेकिन जब नंदीग्राम के विधायक ने इस्तीफा दिया था, तब एक रैली से मैंने आप लोगों से जानने की कोशिश की थी कि क्या मैं नंदीग्राम से लड़ सकती हूं? आप लोगों ने हां कह दिया तो मैंन लड़ने का फैसला लिया.' टीएमसी अध्यक्ष ने कहा कि सिंगुर और नंदीग्राम आंदोलन की भूमि है. इसलिए ये दोनों सीटों में से किसी एक सीट से मैं लड़ना चाहती थी.

'आपकी मंजूरी के बाद ही भरूंगी पर्चा'

नंदीग्राम के मंच से ममता ने कहा, सिंगुर नहीं होने से नंदीग्राम का आंदोलन नहीं होता. मैं गांव की बेटी हूं. मैंने पहले से सोचा था कि इस बार नंदीग्राम या सिंगुर से चुनाव लड़ूंगी. आप लोगों ने मुझे स्वीकार किया है, इसलिए मैं नंदीग्राम आई हूं. अगर आप लोगों को मेरा यहां से चुनाव लड़ना गलत लगता है तो मैं पर्चा दाखिल नहीं करूंगी. आप लोगों की मंजूरी के बाद ही नामांकन दाखिल करूंगी.

नंदीग्राम में 'बाहरी' की लड़ाई

ममता ने मंच से बीजेपी पर हमला बोलते हुए कहा कि मैं खुद हिंदू हूं, मुझे हिंदुत्व मत सिखाइए. ममता ने बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहा, 'कुछ बाहर के लोग खुद मुझे बाहरी बता रहे हैं. दिल्ली के गुंडे मुझे बाहरी बता रहे हैं. बंगाल की बेटी आखिर बाहरी कैसे हो सकती है.'

ये भी पढ़ें- बंगाल की बेटी vs भूमिपुत्र: BJP-TMC के बीच शुरू हुआ पोस्टर वॉर, जानें क्या है पूरा मामला​

बीजेपी को अप्रैल फूल बनाने की अपील

बीजेपी के हिंदू कार्ड पर ममता ने कहा, 'मैं सुबह चंडी पाठ कर घर से निकलती हूं. मैं चंडी पाठ सुना रही हूं. मैंने नंदीग्राम के लिए मनोकामना की है. अगले दिन शिवरात्रि है. बोलिए धर्म को लेकर खेलेंगे. जो हिंदू मुस्लिम कर रहे हैं सुन लें. पांव खींच खींचकर चलते हुए झूठ मत बोलिए.आने वाले दिनों में नंदीग्राम का मॉडल तैयार करूंगी. एक अप्रैल को उनको अप्रैल फूल कर दीजिएगा. क्योंकि मैं पैसे देकर पॉलिटिक्स नहीं करती.' एक अप्रैल खेला होगा. चुनाव बाद देखूंगी जीभ में कितना जोर है. 

LIVE TV
 

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.