दिल्ली: चाचा नेहरू की जयंती पर 'रन फॉर चिल्ड्रन', स्कूली बच्चों ने लगाई दौड़

देश के पूर्व प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू की जयंती के मौके पर गुरुवार को दिल्ली में 'रन फॉर चिल्ड्रन' का आयोजन किया गया. एक गैर-लाभकारी संगठन 'प्रयास' द्वारा आयोजित इस दौड़ में स्कूली बच्चों ने हिस्सा लिया.

दिल्ली: चाचा नेहरू की जयंती पर 'रन फॉर चिल्ड्रन', स्कूली बच्चों ने लगाई दौड़
'प्रयास' संस्थ की ओर से आयोजित 'रन फॉर चिल्ड्रन'

नई दिल्ली: देश के पूर्व प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू (Jawaharlal Nehru) की जयंती के मौके पर गुरुवार को दिल्ली में 'रन फॉर चिल्ड्रन' का आयोजन किया गया. एक गैर-लाभकारी संगठन 'प्रयास' द्वारा आयोजित इस दौड़ में स्कूली बच्चों ने हिस्सा लिया.

14 नवंबर को हर साल बाल दिवस (Children's Day) के रूप में मनाया जाता है. इस दिन देश के पहले प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू (Jawaharlal Nehru) का जन्मदिन भी होता है जिसे उनकी बर्थ एनिवर्सरी के रूप में सेलिब्रेट किया जाता है. बहुत कम लोग जानते हैं कि बाल दिवस पहले 14 नवंबर को नहीं 20 नवंबर को मनाया जाता था. इस दिन को बच्चों के अधिकारों और उनकी शिक्षा के बारे में जागरुक करने के लिए मनाया जाता है.

भारत के अलावा बाल दिवस दुनिया भर में अलग-अलग तारीखों पर मनाया जाता है. 14 नवंबर 1889 को ही भारत के पहले प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू का जन्म हुआ था, जिन्हें प्यार से चाचा नेहरू भी कहा जाता था. चाचा नेहरू को बच्चों से काफी प्यार था.

27 मई 1964 को नेहरू का निधन हो गया था. फिर नेहरू के जन्मदिन को याद रखने के लिए 14 नवंबर बाल दिवस के रूप में मनाने का फैसला लिया गया. यह निर्णय नेहरू का बच्चों के प्रति लगाव को देखकर ही लिया गया था.