दिल्ली में हवा की गुणवत्ता 'बहुत खराब', राष्ट्रपति कोविंद ने जताई चिंता

दिल्ली में पीएम 2.5 और पीएम-10 के लेवल में भी कोई सुधार नहीं देखने को मिला है. दिल्ली के लोधी रोड में पीएम 2.5 का लेवल 210 रहा वहीं पीएम-10 का लेवल 204 रहा. 

दिल्ली में हवा की गुणवत्ता 'बहुत खराब', राष्ट्रपति कोविंद ने जताई चिंता

नई दिल्ली: राजधानी दिल्ली में बुधवार की सुबह भी प्रदूषण के साथ हुई. आज दिल्ली में वायु की गुणवत्ता का स्तर 269 रहा जो कि बहुत खराब की श्रेणी में होता है. वहीं दिल्ली में पीएम 2.5 और पीएम-10 के लेवल में भी कोई सुधार नहीं देखने को मिला है. दिल्ली के लोधी रोड में पीएम 2.5 का लेवल 210 रहा वहीं पीएम-10 का लेवल 204 रहा. वहीं दिल्ली से सटे नोएडा की बात करें तो यहां पर वायु की गुणवत्ता का स्तर 333 दर्ज किया गया जो कि बहुत खराब की श्रेणी में है. हरियाणा के गुरुग्राम का हाल भी कुछ ऐसा ही रहा. यहां एयर क्वालिटी इंडेक्स 207 रहा. 

दिल्ली की 'खराब हवा' पर राष्ट्रपति भी हुए चिंतित, कहा- अस्तित्व को खतरा, भविष्य को लेकर डर
दिल्ली में पलूशन को लेकर मंगलवार को एक तरफ संसद में चर्चा हुई तो राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने भी इस पर चिंता जताते हुए कहा कि ऐसे हालात में भविष्य की चिंता होती है और अस्तित्व खतरे में लगता है। राष्ट्रपति भावन में देश के आईआईटी, एनआईटी और इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ इंजिनियरिंग साइंस ऐंड टेक्नॉलजी के निदेशकों से बातचीत में यह बात कही। उन्होंने कहा कि हमें उम्मीद है कि आप लोग अपनी विशेषज्ञता से एयर पलूशन की समस्या का समाधान ढूंढ लेंगे और साथ ही छात्रों तथा शोधकर्ताओं में संवेदनशीलता जगाएंगे।

कोविंद ने राष्ट्रपति भवन में सालाना ‘विजिटर्स कॉन्फ्रेंस’ में कहा, ‘यह साल ऐसा वक्त है जब देश की राजधानी और कई अन्य शहरों की वायु गुणवत्ता मानकों से परे काफी खराब हो गई है। कई वैज्ञानिकों ने भविष्य की दुखद तस्वीर पेश की है। शहरों में धुंध और खराब दृश्यता के दिनों में हमें डर रहता है कि क्या भविष्य ऐसा ही है।’