दिल्ली सरकार ने पेश किया बजट, शिक्षा क्षेत्र को दिया 15 हजार करोड़

उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने बजट संबोधन में कहा कि शिक्षा क्षेत्र को कुल बजट का करीब 26 प्रतिशत आवंटित किया गया है

दिल्ली सरकार ने पेश किया बजट, शिक्षा क्षेत्र को दिया 15 हजार करोड़
सरकार ने नए वित्त वर्ष के लिये कुल 60 हजार करोड़ रुपये का बजट पेश किया है

नयी दिल्ली: दिल्ली की आम आदमी पार्टी सरकार ने वित्त वर्ष 2019-20 के बजट में शिक्षा क्षेत्र को 15 हजार करोड़ रुपये से अधिक राशि आवंटित की है. वित्त वर्ष 2019-20 का बजट मंगलवार को विधानसभा में पेश किया गया.

उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने बजट संबोधन में कहा कि शिक्षा क्षेत्र को कुल बजट का करीब 26 प्रतिशत आवंटित किया गया है. उन्होंने कहा, 'पिछले सालों में शिक्षा क्षेत्र को बजट आवंटन करीब कुल बजट का 24-25 प्रतिशत हुआ करता था'.

बजट में घोषित विभिन्न मुहिमों में उद्यमिता योजनाओं के लिये आवंटन, पारिवारिक व्यवसाय के पाठ्यक्रम की शुरुआत, शिक्षक प्रशिक्षण विश्वविद्यालय की स्थापना और एक अप्लायड साइंस विश्वविद्यालय का निर्माण शामिल है.

सिसोदिया ने कहा, 'डिजिटल शिक्षा योजना की शुरुआत की जाएगी जिसमें विद्यार्थियों को टैबलेट दिये जाएंगे. इसके लिये करीब नौ करोड़ रुपये का आवंटन हुआ है. दसवीं में 80 प्रतिशत से अधिक अंक पाने वाले विद्यार्थियों को टैबलेट दिये जाएंगे'. आम आदमी पार्टी सरकार ने नए वित्त वर्ष के लिये कुल 60 हजार करोड़ रुपये का बजट पेश किया है.

(इनपुट-भाषा)