close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

मदरसे में पढ़ने वाले 8 साल के बच्चे की दर्दनाक मौत, हत्या का मुकदमा दर्ज

मदरसे में पढ़ने वाले बच्चों का पड़ोस के बच्चों से झगड़ा हो गया और इसी झगड़े के दौरान एक बच्चा जमीन पर गिर गया और अस्पताल में उसकी मौत हो गई. 

मदरसे में पढ़ने वाले 8 साल के बच्चे की दर्दनाक मौत, हत्या का मुकदमा दर्ज
मृतक छात्र का फाइल फोटो.

दिल्ली: दिल्ली के मालवीय नगर इलाके में चौक देने वाला मामला सामने आया है, जहां मदरसे में पढ़ने वाले बच्चे की दर्दनाक मौत हो गई. पुलिस ने हत्या का मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है. घटना के बाद इलाके में एहतियात के तौर पर पुलिस बल तैनात किया गया है. पुलिस ने बताया कि मदरसा के छात्रों और उस क्षेत्र में रहने वाले लड़कों के बीच विवाद हो गया, जिसके चलते छात्र की मौत हो गई.

हादसे की जानकारी देते हुए पुलिस ने बताया की कुछ बच्चे मदरसे के पास खेल रहे थे. तभी मदरसे में पढ़ने वाले बच्चों का पड़ोस के बच्चों से झगड़ा हो गया और झगड़े के दौरान एक बच्चा जमीन पर गिर गया और अस्पताल में उसकी मौत हो गई. पुलिस का कहना है की अंदरूनी चोट की वजह से उसकी मौत हुई है. पुलिस ने शुरुआती जांच में झगड़ा करने वाले चार बच्चों को पुलिस ने पकड़ा है. वहीं, पुलिस इलाके में लगे सीसीटीवी कैमरे की मदद से पूरी घटना जानने की भी कोशिश कर रही है. हालांकि, प्रथम दृष्टया सीसीटीवी जांच में ये पाया गया है कि बच्चों के बीच खेल को लेकर झगड़ा हुआ है.

 8 year old child died in delhi

डीसीपी साउथ विजय कुमार के मुताबिक, गुरुवार (25 अक्टूबर) सुबह 10 बजकर 10 मिनट पर पुलिस को मालवीय नगर के बेगमपुर इलाके से पीसीआर कॉल के जरिए घटना के बारे में जानकारी प्राप्त हुई. मौके के पहुंची पुलिस को ये पता चला कि बच्चों के झगड़े में एक 8 साल के बच्चे की मौत हो गई. मृतक बच्चे की पहचान अब्दुल अजीम के तौर पर हुई है. मदरसे के छात्रों और उस क्षेत्र में रहने वाले लड़कों के बीच विवाद हो गया, जिसके चलते छात्र की मौत हो गई.

पुलिस ने बताया कि मृतक बच्चे का परिवार मेवात में रहता है. बच्चे के पिता खलील अहमद खेतीबाड़ी करते हैं. बच्चे को पढ़ने के लिए मदरसा भेजा गया था. यहां वो तीनों भाई साथ ही मदरसे में पढ़ते थे. पुलिस ने इस मामले में ऐहतियात के तौर पर इलाके में पुलिस फोर्स तैनात की है और आईपीसी की धारा 302 यानी हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया है. पुलिस अब मामले के हर पहलू की जांच कर रही है.