close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

गरीब छात्र ने 10वीं में हास‍िल किए 70% अंक, दिल्‍ली पुलिस के SHO उठाएंगे पढ़ाई का खर्चा

केशव शर्मा ने दसवीं कक्षा की परीक्षा 71 फीसदी अंकों के साथ पास की है. उसके परिवार की आर्थ‍िक हालत ऐसी नहीं है, जिससे वह ट्यूशन ले सके. ऐसे में बिना किसी सहायता के उसने 71 फीसदी अंक प्राप्त किये हैं.

गरीब छात्र ने 10वीं में हास‍िल किए 70% अंक, दिल्‍ली पुलिस के SHO उठाएंगे पढ़ाई का खर्चा

नई दिल्‍ली: आमतौर पर पुलिस के बारे में लोगों की राय बहुत अच्‍छी नहीं  होती है. लोगों की ऐसी ही राय और धारणाओं को बदलने के लिए दिल्ली पुलिस कई योजनाओं पर काम कर रही है. वह पुलिस और लोगों के बीच जो दूरी है, उसको बदलने की कोशिश कर रही है. कुछ ऐसा ही प्रयास किया है कमला मार्केट थाने के एसएचओ सुनील कुमार ढाका ने. उन्होंने इस बार गरीब परिवार के छात्र केशव शर्मा की शिक्षा का पूरा खर्चा खुद उठाने का दायित्व लिया है.   

केशव शर्मा ने दसवीं कक्षा की परीक्षा 71 फीसदी अंकों के साथ पास की है. उसके परिवार की आर्थ‍िक हालत ऐसी नहीं है, जिससे वह ट्यूशन ले सके. ऐसे में बिना किसी सहायता के उसने 71 फीसदी अंक प्राप्त किये हैं. जिसमें 90 अंक इतिहास विषय में हैं. केशव अपने परिवार में इकलौती संतान है. करीब तीन साल पहले उसकी मां का देहांत हो गया था. पिता फोटोग्राफी करते हैं. केशव के पास इतने पैसे नहीं थे कि वह ट्यूशन ले सके, लेकिन उसके मन में पढ़ लिखकर कुछ बनने की हसरत है. आर्थ‍िक परेशानियों से जूझकर भी उसने झांसी रोड स्थित राजकीय सर्वोदय बाल विद्यालय का नाम रोशन किया. इसे देखते हुए एसएचओ सुनील कुमार ढाका ने उसके नए स्कूल में एडमिशन उसकी ड्रेस, पुस्तक आदि उसकी सारी शिक्षा की जिम्मेदारी खुद ले ली है.

एसएचओ का मानना है कि ऐसे प्रतिभाशाली गरीब परिवारों के छात्र आर्थिक तंगी के कारण शिक्षा से वंचित न रह जाएं. पुलिस द्वारा समाज को प्रोत्साहित करने वाले इस तरह के कदम जनता में पुलिस के प्रति आशा और विश्वास जगाने के साथ साथ एक मानवता की मिसाल भी पेश करते हैं. अगर इन बच्चों को सहायता नहीं मिलेगी तो हो सकता है कि यही बच्चे गलत संगत का शिकार हो जाएं जिससे इनका भविष्य अंधकार में चला जाए.