close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

AAP विधायक अलका लांबा का CM योगी को लेकर विवादित ट्वीट, कुशीनगर हादसे पर जताया गुस्सा

दिल्ली की चांदनी चौक विधानसभा सीट से विधायक अलका लांबा के ट्वीट में उनकी भाषा को लेकर लोगों ने आपत्ति जताई है. कई लोगों ने अलका को खरी-खरी सुनाई है. 

AAP विधायक अलका लांबा का CM योगी को लेकर विवादित ट्वीट, कुशीनगर हादसे पर जताया गुस्सा
आम आदमी पार्टी की विधायक अलका लांबा (फाइल फोटोः डीएनए)

नई दिल्लीः यूपी के कुशीनगर मानवरहित रेलवे क्रॉसिंग पर स्कूल वैन की टक्कर में 13 छात्रों की मौत के बाद सीएम योगी के संवेदनहीन बयान पर AAP विधायक अलका लांबा ने विवादित ट्वीट किया है. अलका लांबा ने अपने ट्वीट में यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ के लिए अपशब्दों का इस्तेमाल किया है. दिल्ली की चांदनी चौक विधानसभा सीट से विधायक अलका लांबा के ट्वीट में उनकी भाषा को लेकर लोगों ने आपत्ति जताई है. कई लोगों ने अलका को खरी-खरी सुनाई है.

अलका लांबा ने अपने ट्वीट में लिखा, 'देश में 5000 क्रॉसिंग है जिनकी वजह से 35 प्रतिशत दुर्घटनाएं होती है. यूपी का ##$#  मुख्यमंत्री कहता है कि हादसा गाड़ी के ड्राइवर के कानों में इयरफोन लगने के कारण हुआ. और तो और इसे कुशीनगर की जनता का गुस्सा नौटंकी लग रहा था. ##$$ आदमी. '

अाम आदमी पार्टी की विधायक द्वारा यूपी के सीएम के बारे में ऐसे शब्दों का इस्तेमाल करना ट्विटर पर लोगों ने आलोचना की. बता दें कि उत्तर प्रदेश के कुशीनगर जिले में दुदही रेलवे स्टेशन के निकट गुरुवार सुब​ह मानव रहित क्रासिंग पर स्कूली बच्चों से भरी वैन के एक पैसेंजर ट्रेन की चपेट में आ जाने से सात से ग्यारह साल के 13 बच्चों की मौत हो गयी जबकि आठ अन्य घायल हो गये . हादसा स्थल पर पहुंचे प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को गुस्साये लोगों के प्रदर्शन का सामना करना पड़ा . जिला अस्पताल का निरीक्षण करने के बाद योगी मौके पर पहुंचे थे . वहां मौजूद लोगों में काफी गुस्सा था .

भीड़ रेलवे और स्थानीय प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी कर रही थी क्योंकि उनका आरोप था कि दुर्घटना के लिए ये ही जिम्मेदार हैं . मुख्यमंत्री ने भीड को शांत कराने का प्रयास किया लेकिन नारेबाजी जारी रही . इस पर नाराज योगी ने लोगों से कहा, 'नारेबाजी बंद करो, नौटंकी बंद करो .' उन्होंने कहा, 'मैं यहां सिर्फ अपनी सहानुभूति व्यक्त करने आया हूं .' इस पर भी प्रदर्शनकारी संतुष्ट नहीं हुए . कुछ लोग रेल पटरी पर जाकर बैठ गये . उनकी मांग थी कि भविष्य में ऐसे हादसों से बचने के लिए मानवरहित क्रासिंग पर रेलवे का कर्मचारी तैनात किया जाए .

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने दुर्घटना स्थल पहुंचकर सारे पहलुओं की जानकारी ली. उन्होंने पडरौना के ​जिला अस्पताल का निरीक्षण किया और गोरखपुर के बीआरडी मेडिकल कालेज में भर्ती गंभीर रूप से घायल चार बच्चों और वैन चालक नियाज अह​मद को भी देखने पहुंचे.

(इनपुट भाषा से)