close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

AAP सांसद भगवंत मान ने लिया शराब छोड़ने का संकल्प, लोग बोले- ये वादा पीने से पहले किया या बाद में?

केजरीवाल की मौजूदगी में अपनी मां का हाथ पकड़कर भगवंत मान ने यह घोषणा की. 'आप' नेता के इस संकल्प का अब सोशल मीडिया पर मजाक बनाया जा रहा है.

AAP सांसद भगवंत मान ने लिया शराब छोड़ने का संकल्प, लोग बोले- ये वादा पीने से पहले किया या बाद में?
बरनाला में जनसभा को संबोधित करते हुए आप सांसद भगवंत मान.

चंडीगढ़: पंजाब के बरनाला से दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने लोकसभा चुनाव 2019 के लिए प्रचार की शुरुआत की. इसी रैली में आम आदमी पार्टी के पंजाब प्रमुख और संगरूर से सांसद भगवंत मान ने मंच पर सार्वजनिक रूप से शराब की आदत छोड़ने का ऐलान किया. केजरीवाल की मौजूदगी में अपनी मां का हाथ पकड़कर भगवंत मान ने यह घोषणा की. आप नेता के इस संकल्प का सोशल मीडिया पर मजाक बनाया जा रहा है. यूजर्स चुटकी लेते हुए पूछ रहे हैं कि यह वादा शराब पीने से पहले किया था या बाद में?

दिल्ली के उप-मुख्यमंत्री मनीष सिसौदिया ने अपने ट्वीट करके लिखा है, आप (AAP) के सांसद भगवंत मान ने ऐलान किया है कि 1 जनवरी 2019 यानी नई साल से वह शराब को हाथ नहीं लगाएंगे. उन्होंने मंच पर अपनी मां और पंजाब की जनता के सामने वादा किया कि अपना तन-मन-धन पंजाब की सेवा के लिए लगाएंगे. डिप्टी सीएम के इस ट्वीट पर यूजर्स तरह-तरह के रिप्लाई दे रहे हैं. कई लोग तो भद्दे कमेंट्स पर उतर आए हैं.

@deeptiwari ट्विटर अकाउंट से लिखा गया है, ''सभी शराबी यही बोलते हैं.''

एक और यूजर @Beingkrunal_ ने लिखा है, ''आपका ट्वीट वो दावा सच साबित कर रहा है कि मान संसद में शराब पी के आते थे.''

@imashwattama लिखते हैं, ''हाथ नहीं लगाएंगे, अब सीधे बोतल से पीएंगे, बजाओ ताली.''

@Brajesh_gang ने रिप्लाई दिया, ''सरजी, आप भी कहां शराबी की बातों को गंभीरता से ले रहे हैं.''

ट्विटर पर एक और यूजर ने लिखा है कि आप लोगों के चक्कर में यह (भगवंत मान) भी झूठ बोलना सीख गया.

एक और ने लिखा है, ''कोई बात नहीं है जी, चरस और गांजा बहोत पीएंगे जी. इसमें क्या बात है जी. सिर्फ शराब नहीं पीएंगे.''

संसद वीडियोग्राफी मामले में AAP सांसद भगवंत मान दोषी, मौजूदा सत्र के लिए निलंबित करने की सिफारिश
बता दें कि दो साल पहले अकाली दल पार्टी के सांसद प्रेम सिंह चंदूमाजरा, बीजेपी के महेश गिरी और आम आदमी पार्टी से सस्पेंड हरिंदर खालसा ने सलाह दी थी कि लोकसभा के खर्चे पर मान को शराब की लत छुड़वाने के लिए रिहैबिलिटेशन सेंटर भेजा जाए. इसके बाद ही उन्हें संसद आने की इजाजत दी जाए.

आप सांसद भगवंत मान ने शायराना अंदाज में गिनाईं सरकार की खामियां
गौरतलब है कि पहले खालसा ने मान पर संसद में शराब पीकर आने का आरोप भी लगाया था. हालांकि, आम आदमी पार्टी ने इस आरोप को खारिज कर दिया था. मान ने संसद जाते वक्त लाइव वीडियो फेसबुक पर पोस्ट कर दिया था. वीडियो में संसद में एंट्री के सारे सिक्युरिटी चेक प्वाइंट्स नजर आए. मान का यह वीडियो सामने आने के बाद संसद के दोनों सदनों में जमकर हंगामा हुआ था.